खेल

कौन हैं तितास साधु? जिनके तिलिस्म में फंसी श्रीलंकाई टीम, भारत को एशियन गेम्स में जिताया गोल्ड

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : भारत ने सोमवार को एशियन गेम्स 2023 में महिला क्रिकेट स्पर्धा का गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। भारत ने फाइनल में श्रीलंका को 19 रन से हराया। भारत ने पहली बार गोल्ड मेडल जीता है। श्रीलंका के सामने 117 रन का छोटा लक्ष्य था लेकिन फिर भी भारत ने इसे बखूबी डिफेंड किया।

Advertisement

श्रीलंका ने निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 97 रन बनाए। भारत की जीत में तिसास साधु ने अहम भूमिका निभाई। 18 वर्षीय तितास के तिलिस्म में श्रीलंकाई टीम बुरी तरह फंस गई और अंत तक उबर ही नहीं सकी।

Advertisement

लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका को शुरुआती तीन बड़े झटके तितास ने दिए। उन्होंने तीसरे ओवर में विकेटकीपर बल्लेबाज अनुष्का संजीवनी (1) और विषमि गुणरत्ने (0) को अपने जाल में फंसाया। संजीवनी ने कप्तान हरमनप्रीत कौर को कैच थमाया जबकि विषमि बोल्ड हुईं।

तितास का तीसरा शिकार कप्तान चमारी अटापट्टू (12) बनीं, जो दीप्ति शर्मा के हाथों लपकी गईं। 14 रन पर तीन विकेट गिरने से श्रीलंका की पारी लड़खड़ा गई। हसिनी परेरा (25) और नीलाक्षी डी सिल्वा (23) श्रीलंकाई पारी को संभालने का प्रयास मगर कोई फायदा नहीं हुआ।

कौन हैं तितास साधु?

पश्चिम बंगाल के चिंसुरा में जन्मी तितास साधु दाएं हाथ की मिडियम पेसर हैं। उन्होंने भारत के लिए रविवार (24 सितंबर) को डेब्यू किया। एशिय गेम्स में बांग्लादेश के खिलाफ सेमीफाइनल तितास का पहला मैच था। उन्होंने इस मुकाबले में किफायती गेंदबाजी की थी। तितास ने 4 ओवर में 10 रन खर्च कर एक विकेट लिया।

वहीं, तितास ने फाइनल में अपने 4 ओवर के स्पैल में महज 6 रन देकर तीन शिकार किए। तितास को इस शानदार प्रदर्शन के बाद फ्यूचर स्टार कहा जा रहा है। तितास पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी को आदर्श मानती हैं। तितास ने शुरुआत में क्रिकेट अपने पिता रणदीप साधु से सीखा।

Advertisement

इस मैच से खूब बटोरी सुर्खियां

Advertisement

तितास ने इस साल की शुरुआत में अंडर-19 टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में खूब सूर्खियां बटोरी थीं। उन्होंने टूर्मामेंट के फाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ दमदार गेंदबाजी की थी। तितास ने 4 ओवर केवल 6 रन दिए और दो अहम खिलाड़ियों को पवेलियन की राह दिखाई। इंग्लैंड की टीम 68 रन पर सिमट गई थी। भारत ने 7 विकेट से फाइनल जीतकर ट्रॉफी पर कब्जा जमाया था। तितास को बेहतरीन बॉलिंग के लिए प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड से नवाजा गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button