छत्तीसगढ़बिलासपुर

त्योहार चाहे हिंदुओं का हो या मुस्लिमों का… लाइन गोल किए बिना, सीएसईबी के अफसरों  का मन नहीं मानता, हर मुस्लिम भाई के घर में ईद की मुबारक देने वाले मेहमान और लाइट गोल

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर। जैसा कि हम पहले भी कई बार बता चुके हैं लगभग हर दिन बिलासपुर के अलग-अलग क्षेत्र में घंटों लाइट गोल रखने के आदी विद्युत मंडल के अफसरों को ना तो हिंदुओं के त्यौहार से कोई मतलब है और ना मुस्लिमों के। आज मुस्लिमों का सबसे बड़ा त्यौहार ईद है। वही हिंदुओं के द्वारा अक्षय तृतीय तथा परशुराम जयंती मनाई जा रही है।

Advertisement

लेकिन बिलासपुर के बिजली वाले या कहें विद्युत मंडल वालों को इस से कोई फर्क नहीं पड़ता। आज भी अलग-अलग समय में बिलासपुर शहर के विभिन्न मोहल्लों की बिजली गोल होती रही। त्योहार पर्व को भी बेदर्दी से विद्युत आपूर्ति ठप रखने वाले बिजली अधिकारी पता नहीं क्यों महत्वपूर्ण त्योहारों के दिन भी बिजली गोल कर  सरकार को बदनाम करने की साजिश कर रहे हैं।

Advertisement

और आज शनिवार को तो उन्होंने हद कर दी। हिंदुओं और मुसलमानों के प्रमुख त्योहारों वाले दिन भी बिजली सप्लाई यथावत बनाए रखने की बजाए विद्युत मंडल बिलासपुर शहर में विभिन्न मोहल्लों में दिनभर अलग-अलग समय लाइन गोल करता रहा।

सीएसईबी के अफसरों और मोटी मोटी तनख्वाह पाने वाले इंजीनियरों को इस बात से कोई मतलब नहीं है कि ऐसे महत्वपूर्ण त्योहारों पर बिजली गुल होने से लोगों को कितनी तकलीफ हो रही होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button