play-sharp-fill
छत्तीसगढ़

प्रदेश के 1 लाख अनियमित कर्मचारियों का कब खत्म होगा इंतजार..? मुख्यमंत्री ने कहा…आंदोलन से हम मना नहीं करते, लेकिन जब तक डाटा नहीं आता फैसला संभव नहीं

Advertisement

(शशि कोनहेर): रायपुर:  छत्तीसगढ़ के अनियमित कर्मचारियों के आंदोलन को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का बयान सामने आया है। सीएम बघेल ने अनियमित कर्मचारियों के 12 मार्च को होने वाली अनियमित सभा को लेकर कहा है कि आंदोलन को लेकर हम मना नहीं करते हैं।

Advertisement


विभागों से अलग-अलग कर्मचारियों की जानकारी मांगी गई है। अभी तक 24 विभागों की जानकारी है और शेष 24 विभागों की जानकारी आना बाकी है। कई प्रश्न आए हैं। इसे लेकर समिति की बैठक भी हो गई है। कैसे भर्ती हुई। आरक्षण के नियम क्या थे। ये डाटा जब तक टेबल पर नहीं आता कैसे फैसला लिया जाए।

Advertisement


बतादें कि छत्तीसगढ़ में अनियमित कर्मचारियों का एक बड़ा वर्ग है। अलग-अलग विभागों में करीब एक लाख से ज्यादा अनियमित कर्मचारी कार्यरत हैं। छत्तीसगढ़ सरकार के अंतिम बजट में अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण, पृथक कर्मचारियों की बहाली, अंशकालीन कर्मचारियों की पूर्णकालीन करने, आउट सोर्सिंग-ठेका बंद के संबंध में किसी प्रकार के घोषणा नहीं करने से आक्रोशित है। जिसके चलते अनियमित कर्मचारी नाराज चल रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button