बिलासपुर

जेल में हुई कैदी की मौत से परिजन उबले, कहा…..आबकारी विभाग ने की गलत कार्यवाही, जांच और मुआवजे की उठी मांग….

(आशीष मौर्य) : बिलासपुर – केंद्रीय जेल बिलासपुर में हुई कैदी की मौत मामले में परिजनों ने आबकारी विभाग पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. आबकारी अमले ने सोमवार को पचपेड़ी क्षेत्र के चिल्हाटी से छोटे लाल यादव को 20 लीटर महुआ शराब के साथ गिरफ्तार किया था. जबकि परिजनों का कहना है कि फर्जी रिपोर्ट बनाकर उसके भाई के साथ मारपीट की गई यही वजह ऱही की जेल में उसकी मौत हो गई.

Advertisement

केंद्रीय जेल बिलासपुर में हुई कैदी छोटेलाल यादव का मौत मामला तूल पकड़ता जा रहा है. आबकारी विभाग अधिकारी कर्मचारियों पर परिजनों ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं. रविवार को छोटे लाल यादव का मजिस्ट्रेट उपस्थिति में पोस्टमार्टम कराया जाना था लेकिन परिजन मुआवजा और दोषियों पर कार्रवाई की बात को लेकर अड़े रहे . बाद मे समझाइस के बाद परिजन माने और मृतक का पोस्टमार्टम किया गाया.सीएसपी सिविल लाइन मंजू लता बाज. कोतवाली और सिविल लाइन थाना प्रभारी समेत जेल और पुलिस के अधिकारियों की मौजूदगी में मृतक छोटे लाल यादव का पीएम किया गया। जेल विभाग नें पोस्टमार्टम का बकायदा वीडियोग्राफी भी कराया। गौरतलब है की 10 मई को आबकारी विभाग के अधिकारियों ने पचपेड़ी क्षेत्र के चिल्हाटी में रहने वाले छोटेलाल के यहां दबिश दी थी और वहां से 20 लीटर महुआ शराब जप्त किया था. जबकि परिजनों का कहना है कि आबकारी विभाग के अधिकारी कर्मचारियों ने फर्जी रिपोर्ट बनाकर छोटेलाल यादव को गलत ढंग के मामले में आरोपी बनाया है.

Advertisement

रविवार को मजिस्ट्रेट और पुलिस अधिकारियों की उपस्थिति में मृतक छोटे लाल यादव के परिजनों को समझाइस दी गयी . परिजनों का कहना है कि आबकारी विभाग के अधिकारियों नहीं छोटेलाल के साथ मारपीट की गंभीर चोट होने के कारण जेल में छोटेलाल की मौत हुई है. सिविल लाइन थाना प्रभारी नें कहां की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Advertisement

घटना को लेकर परिजनों में काफी आक्रोश है अधिकारियों ने परिजनों को काफी समझाइश भी दी. लेकिन मृतक के परिजनों का कहना है कि मामले में दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए. अधिकारियो के आश्वासन के बाद परिजन मान गए.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button