छत्तीसगढ़

संजय रहेजा बने क्रेडाई के नये प्रदेश अध्यक्ष

Advertisement

Advertisement



(शशि कोन्हेर) : रायपुर। छत्तीसगढ़ क्रेडाई का रोटेशन में हर दो साल के लिए कार्यकारिणी का गठन होता है। इस बार भी सर्वसम्मति से नई कार्यकारिणी का वर्ष 2023 अप्रैल से लेकर वर्ष 2025 मार्च तक के लिए नई कार्यकारिणी बनी है। जिसमें श्री संजय रहेजा प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किए गए हैं। पंकज लाहोटी-सचिव, शशांक खेतान व आयुष मोदी-उपाध्यक्ष, शशांक अग्रवाल व ऋभुराज अग्रवाल – संयुक्त सचिव, कोषाध्यक्ष ऋत्विक नत्थानी बने हैं। इसके साथ विस्तारित कार्यकारिणी में अन्य सदस्योंं का मनोनयन किया गया है।

Advertisement


क्रेडाई बिल्डर्स एसोसिएशन छत्तीसगढ़ की एक विश्वसनीय संगठन हैं जिसके गुडविल पर प्रदेश में प्रापर्टी सेक्टर का कामकाज होता है और आज इसके पूरे प्रदेश भर में करीब 200 मेंबर्स हैं। यह संगठन नेशनल क्रेडाई से संबद्ध है जिसके देश भर में करीब 12 हजार से भी ज्यादा मेंबर्स हैं। प्रापर्टी बायर्स भी इसीलिए पूरे भरोसे के साथ क्रेडाई मेंबर्स के साथ निवेश करना पसंद करते हैं। क्रेडाई के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष संजय रहेजा ने कहा कि सामूहिक टीम नेटवर्क पर क्रेडाई ने हमेशा काम किया है। पुराने अनुभवी मेंबर्स व नए युवा मेंबर्स के साथ मिलकर वे क्रेडाई के काम को और आगे बढ़ायेंगे। कुछ नया करने की भी चाहत हैं, जिसे वर्तमान कार्यकाल में मिलकर पूरा करेंगे। मालूम हो क्रेडाई का प्रापर्टी एक्सपो आज पूरे मध्यभारत में एक विशेष पहचान स्थापित कर चुका है। निवृतमान अध्यक्ष मृणाल गोलछा ने सभी क्रेडाई मेंबर्स के प्रति आभार व्यक्त किया, उनके कार्यकाल में सभी का भरपूर सहयोग मिला। आगे भी वे नई कार्यकारिणी के साथ मिलकर काम करेंगे।


क्रेडाई की नई प्रदेश कार्यकारिणी-
संजय रहेजा – अध्यक्ष, पंकज लाहोटी – सचिव, शशांक खेतान व आयुष मोदी – उपाध्यक्ष, शशांक अग्रवाल व ऋभुराज अग्रवाल – संयुक्त सचिव, कोषाध्यक्ष – ऋत्विक नत्थानी।
निवृतमान अध्यक्ष – मृणाल गोलछा।
कंज्यूमर ग्रीवेन सेल – आनंद सिंघानिया व जी.एस.राजपाल।
लीगल कमेटी – विजय नत्थानी, रवि फतनानी व निखिल धगट।
टेक्सेशन कमेटी – शैलेष वर्मा व विवेक बेगानी।
मीडिया सीएसआर व इवेंट प्रभार-राकेश पांडे, संतोष लोहाना, प्रतीक केवलानी, ऋषभ कटारिया, शशांक अग्रवाल, सुनील चंद्राकर।
रिसर्च एंड डेवलपमेंट प्रभार – प्रसन्न नीले, हर्ष कोटडिय़ा, अदीद सूर्या।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button