देश

NIA के नए DG बने सदानंद वसंत दाते, 26/11 हमले के दौरान कसाब की निकाल दी थी हेकड़ी..

Advertisement

महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ते (ATS) के प्रमुख सदानंद वसंत दाते को राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) का महानिदेशक नियुक्त किया गया है। कार्मिक विभाग ने इसका आदेश जारी कर दिया है। दाते महाराष्ट्र कैडर के 1990 बैच के भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी हैं।

Advertisement

आदेश में कहा गया है कि कैबिनेट की नियुक्ति समिति (एसीसी) ने एनआईए के महानिदेशक (डीजी) पद पर दाते की नियुक्ति को मंजूरी दे दी है और उनका कार्यकाल 31 दिसंबर 2026 को उनकी सेवानिवृत्ति तक रहेगा। यह आदेश 26 मार्च को जारी किया गया है। वह दिनकर गुप्ता का स्थान लेंगे, जो 31 मार्च को रिटायर होने वाले हैं।

Advertisement

एसीसी ने राजस्थान कैडर के 1990 बैच के आईपीएस अधिकारी राजीव कुमार शर्मा को पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो का महानिदेशक नियुक्त किया है। आदेश में कहा गया है कि उनका कार्यकाल 30 जून 2026 को उनकी सेवानिवृत्ति तक रहेगा। शर्मा, बालाजी श्रीवास्तव का स्थान लेंगे, जिनका मार्च के अंत में कार्यकाल पूरा हो जाएगा।

Advertisement

पीयूष आनंद होंगे एनडीआरएफ के नए प्रमुख
पीयूष आनंद राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के नए प्रमुख होंगे। उत्तर प्रदेश कैडर के 1991 बैच के आईपीएस अधिकारी आनंद वर्तमान में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के विशेष महानिदेशक हैं। आदेश में कहा गया है।

Advertisement

कि उन्हें दो साल की अवधि के लिए एनडीआरएफ का महानिदेशक नियुक्त किया गया है। आनंद 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो रहे अतुल करवाल का स्थान लेंगे। एसीसी ने केरल कैडर के 1995 बैच के आईपीएस अधिकारी एस सुरेश को विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) में अतिरिक्त महानिदेशक के रूप में नियुक्त किया है।

26/11 हमले के दौरान नायक बनकर उभरे सदानंद
सदानंद वसंत दाते मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकवादी हमले के दौरान बेहोश होने से पहले तक आतंकवादी अजमल कसाब का सामना किया था।

उन्हें उनकी बहादूरी के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित किया गया था। उन्होंने कहा था, ’26/11 हमला मेरे करियार का सबसे चुनौतीपूर्ण घटना है। यह जीवनभर मेरे साथ रहेगी। मैंने अपनी क्षमता के अनुसार इसका सामना किया था।’

आपको बता दें कि महाराष्ट्र कैडर के अधिकारी दाते उस एजेंसी के महानिदेशक का पदभार संभालेंगे जिसे विशेष रूप से आतंकवादी मामलों की जांच का काम सौंपा गया है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button