Uncategorized

तीसरे चरण की वोटिंग में भी ऋषि सुनक आगे

(शशि कोन्हेर) : ऋषि सुनक  ने सोमवार को कंजरवेटिव पार्टी के सदस्यों के बीच मतदान के ताजा दौर में शीर्ष स्थान हासिल किया। प्रधानमंत्री पद दौड़ में टाम ट्यूगेंढत सबसे कम वोट पाने के बाद दौड़ से बाहर हो गए। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटिश भारतीय पूर्व वित्त मंत्री  को तीसरे दौर के मतदान में 115 वोट मिले। व्यापार मंत्री पेनी मोर्डंट  82 मतों के साथ दूसरे स्थान पर रहीं।

Advertisement

दौड़ में रह जाएंगे मात्र दो प्रत्याशी
इसके बाद 71 मतों के साथ विदेश मंत्री लिज ट्रस तीसरे जबकि 58 मतों के साथ पूर्व कैबिनेट मंत्री केमी बेदेनोच  चौथे स्थान पर रहीं। माना जा रहा मंगलवार को होने वाली वोटिंग में एक प्रत्याशी का और पत्ता कट जाएगा। गुरुवार तक इस दौड़ में मात्र दो प्रत्याशी रह जाएंगे। जिन्हें आगे जूझना होगा। अंत में दो उम्‍मीदवारों के बीच टक्‍कर में कंजरवेटिव पार्टी के लगभग 160,000 योग्य मतदाताओं को अपने पक्ष में करने की कवायद होगी।

Advertisement

सुनक पर प्रतिद्वंद्वियों ने जुबानी हमले तेज किए
विजेता को पार्टी का नया नेता चुना जाएगा जो 5 सितंबर तक नए ब्रिटिश प्रधानमंत्री के रूप में पदभार ग्रहण करेंगे। सोमवार को तीसरे दौर के मतदान से पहले दूसरे टीवी परिचर्चा में रविवार को पांचों उम्मीदवारों के बीच तीखी बहस हुई। अधिकतर उम्मीदवार सुनक के ससुर इंफोसिस के सह संस्थापक नारायण मूर्ति व सास सुधा मूर्ति की संपत्ति को लेकर हमले कर रहे थे। वहीं, सुनक ने कहा कि पत्‍‌नी अक्षता के माता-पिता ने कड़ी मेहनत से जो उपलब्धियां हासिल की हैं उस पर उन्हें गर्व है।

Advertisement

प्रतिद्वंद्वियों को दिया जवाब
42 वर्षीय सुनक ने आइटीवी चैनल पर प्रतिद्वंद्वियों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि मैं हमेशा से ब्रिटेन का सामान्य करदाता रहा हूं, जबकि मेरी पत्‍‌नी दूसरे देश से हैं, उनके टैक्स का मामला भी सुलझाया जा चुका है।उन्होंने कहा कि मेरे सास-ससुर की संपत्ति पर टिप्पणी की जा रही है, इसलिए इसका जवाब देना जरूरी है। उन्होंने कहा कि शुरुआत में नारायणमूर्ति के पास सपनों के अलावा कुछ नहीं था, जिन्हें उनकी पत्‍‌नी सुधा ने कुछ पैसे बचाकर सहेजा था।

लिज ट्रस ने बोला हमला
आगे चलकर उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत से दुनिया की एक बड़ी कंपनी बनाई, जिसमें ब्रिट्रेन में भी लोगों को रोजगार मिल रहा है। ऐसे में मैं उन पर गर्व महसूस करता हूं। रायटर के अनुसार, विदेश मंत्री लिज ट्रस ने पूर्व वित्त मंत्री सुनक पर बीते 70 साल में सबसे ज्यादा टैक्स बढ़ाने का आरोप लगाया। वहीं, सुनक ने कहा कि मुझे भी करों में कटौती पसंद है, लेकिन मुद्रास्फीति पर नियंत्रण को उससे भी बड़ा मुद्दा मानता हूं।

सर्वे में 24 प्रतिशत लोगों की पसंद के साथ सुनक सबसे आगे
एक ओपिनियन पोल के अनुसार, पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक को लगभग 24, सांसद टाम तुगेंदत को 19, व्यापार मंत्री पेनी मार्डोट को 17, विदेश मंत्री लिज ट्रस को 15 व पूर्व मंत्री केमी बादेनोक को सबसे कम 12 प्रतिशत लोगों ने पसंद किया। वहीं, कंजरवेटिव पार्टी की होम वेबसाइट पर किए सर्वे में बादेनोक 59 व मार्डोट 31 प्रतिशत वोटों के साथ सबसे आगे रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button