देश

RBI ने फिर नहीं की रेपो रेट में कोई कटौती….

Advertisement

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एक बार फिर रेपो रेट को जस का तस रखने का फैसला लिया है.  तीन दिवसीय मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक (MPC Meeting) के बाद आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने बताया कि कमेटी ने एक बार फिर रेपो रेप में कोई बदलाव नहीं करने का फैसला किया है. रेपो रेट फिलहाल 6.5 फीसदी है. हालांकि उन्होंने कहा कि अब इस पर केंद्रीय बैंक की पैनी नजर होगी.

Advertisement

6 में से पांच सदस्‍यों ने जताई सहमति

भारतीय रिजर्व बैंक की वित्त वर्ष 2023-24 की पांचवी मॉनिटरी पॉलिसी की बैठक में गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि रेपो रेट अभी स्थिर रहेगा. बैठक में 6 में से 5 सदस्‍यों ने रेपो रेट स्थिर रखने के फैसले पर सहमति जताई है. रिजर्व बैंक का ‘withdrawal of accommodation’ का रुख कायम है. गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि महंगाई दर को 4 फीसदी के नीचे लाने पर फोकस रहेगा.

GDP 7 फीसदी की दर से बढ़ने का अनुमान
आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि वित्त वर्ष 2023-24 के लिए सकल घरेलू उत्‍पाद की ग्रोथ 7 फीसदी रहने का अनुमान है. इससे पहले आरबीआई ने 6.5 फीसदी ग्रोथ रहने का अनुमान लगाया था. उन्होंने कहा कि तीसरी तिमाही में जीडीपी 6.5 फीसदी और चौथी तिमाही में 6 फीसदी की दर से बढ़ेगी. दास ने कहा कि 2024-25 की पहली तिमाही के लिए वास्तविक जीडीपी ग्रोथ 6.7 प्रतिशत, दूसरी तिमाही में 6.5 प्रतिशत और तीसरी तिमाही में 6.4 प्रतिशत रहने का अनुमान है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button