बिलासपुर

सजा सुनते ही, कोर्ट से भागा आरोपी….

(आशीष मौर्य के साथ जय साहू) : बिलासपुर – ऑटो रिक्शा के एक मामले में जिला उपभोक्ता फोरम द्वारा सजा सुनाए जाने के बाद आरोपी प्रोपराइटर वहां से फरार हो गया. घटना की सूचना सिविल लाइन थाने में दर्ज कराई गई है. मेसेर्स छत्तीसगढ़ ट्रैक्टर के प्रोपराइटर सुनील कुमार जैन के खिलाफ उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम धारा 27 के तहत एक माह कारावास और ₹2000 अर्थदंड की सजा सुनाई है.

Advertisement
आवदेक – गणेश राम धुरी

जिला उपभोक्ता फोरम में वर्ष 2010 के एक मामले में मेसेर्स छत्तीसगढ़ ट्रैक्टर के प्रोपराइटर सुनील कुमार जैन को उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम की धारा 27 के तहत एक माह कारावास और ₹2000 अर्थदंड की सजा सुनाई है. सोमवार को जैसे ही सजा सुनाई गई प्रोपराइटर सुनील कुमार जैन उपभोक्ता फोरम से दबे पांव फरार हो गया. वहां के कर्मचारी सुरक्षा में लगे जवान कुछ समझ पाते बहुत देर हो चुकी थी. घटना की सूचना तत्काल सिविल लाइन थाने में दर्ज कराई गई.

Advertisement

बताया जा रहा है कि ऑटो रिक्शा वाहन की फाइनेंस राशि का संपूर्ण भुगतान प्राप्त करने के बाद भी वाहन मालिक गणेशराम धुरी को को अनापत्ति प्रमाण पत्र और वाहन के दस्तावेज नहीं देने के मामले में, उपभोक्ता फोरम ने मेसेर्स छत्तीसगढ़ ट्रैक्टर्स के प्रोपराइटर सुनील कुमार जैन के खिलाफ सजा सुनाई है.

Advertisement

आरोपी सुनील कुमार जैन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है. इसके साथ ही सिविल लाइन थाने में भी इसकी सूचना दर्ज कराई गई है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button