छत्तीसगढ़

विभागों में सालों से विराजमान अधिकारी कर्मचारीयों का तबादला नहीं

Advertisement

(मुन्ना पाण्डेय) : लखनपुर (सरगुजा)
सूबे में हुकुमत बदलने के साथ सियासतदारो के चेहरे भी बदले लेकिन ब्लाक लखनपुर क्षेत्र में कुछ ऐसे विभाग है जहां दशक दो दशक से  एक ही कार्यालय में अधिकारी कर्मचारी कुंडली मारे बैठे हैं। कुछ दफ्तरों में  विराजमान अधिकारी कर्मचारीयों की तबादला कई सालों से नहीं हुआ। ऐसा लगता है जैसे शासन प्रशासन ने  इन अधिकारी कर्मचारीयों के नाम ताउम्र सेवानिवृत्त होने तक एक ही कार्यालय में बने रहने तथा  तबादला नहीं किये जाने   वसीयत लिख दिया है।

Advertisement

  महिला बाल विकास विभाग की बात की जाये तो कार्यालय में बैठे अधिकारी, बाबू   ही नहीं अपितु  सेक्टर सुपरवाइजरों  का  तबादला लम्बे अरसे से नहीं हुआ है। जिससे  दफ्तर में  बैठे अधिकारी बाबू मनमाने तरीके से अपने कार्य का निष्पादन कर रहे हैं। परियोजना कार्यालय में  मनमानी बढ़ी हुई है।  महिला बाल विकास विभाग से संचालित होने वाले आंगनबाड़ी केंद्रों में अव्यवस्था पसरी हुई है।

Advertisement


दरअसल निगरानी नियंत्रण के अभाव में अधिकांश आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहते हैं। अभी हालिया चंद महीने पहले कुछ जनप्रतिनिधियों ने वनांचल सरहदी गांवों के कुछ आंगनबाड़ी केंद्रों का औचक निरीक्षण किया जिसमें अधिकांश आंगनबाड़ी केंद्र बंद पाये गये थे। लिहाजा  आंगनबाड़ी केंद्रों में इस तरह के लचर व्यवस्था एवं विभागीय अधिकारी कर्मचारीयों के लापरवाही बेखबरी को लेकर जिला प्रशासन को लिखित रूप में जनप्रतिनिधियों ने अवगत भी कराया गया था परंतु इसका कोई सार्थक ठोस नतीजा सामने नहीं आया।


कुछ  तजुर्बेकार क्षेत्र वासियों का मानना है कि लम्बे समय से परियोजना कार्यालय में बैठे अधिकारी कर्मचारीयों के अनदेखी के वजह से आंगनबाड़ी केंद्रों में बंद जैसे हालात बने हुए हैं। इन अधिकारी बाबूओ का बदली होना बहुत पहले चाहिए था नहीं हुआ दरहकीकत  आंगनबाड़ी केंद्रों में गर्भवती ,धात्री महिला तथा नौनिहालों को शासन के योजना का लाभ जिस ढंग से मिलना चाहिए नहीं मिल पा रहा है। यदि परियोजना कार्यालय में सालों से कुंडली मारे अधिकारी कर्मचारीयों सेक्टर सुपरवाइजरों की दबादला हो जाये तो  आंगनबाड़ी केंद्रों के बिगड़े व्यवस्था में काफी हद तक बदलाव आ सकता है  क्षेत्रवासियों की ऐसी सोच है।
आंगनबाड़ी केंद्रों के हालात   बेहतर हो सकते हैं।


लोगों का यह भी कहना है कि एक परियोजना कार्यालय की ही बात नही है जिन विभागों के दफ्तरों में  अधिकारी कर्मचारी लम्बे समय से कुंडली मारे  बैठे हैं ऐसे विभाग के अधिकारी कर्मचारीयों की तबादला निहायती जरूरी है। इस विषय को लेकर क्षेत्र वासियों ने शासन प्रशासन का ध्यानाकर्षण कराया है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button