देश

LPG सिलेंडर 200 रुपये सस्ता करने की तैयारी में मोदी सरकार….2024 चुनाव से पहले होगा बड़ा दांव

Advertisement


(शशि कोन्हेर) : आम चुनाव की तैयारियों में जुटी केंद्र सरकार जनता को घरेलू एलपीजी सिलेंडरों की कीमत में बड़ी राहत दे सकती है। सूत्रों का कहना है कि एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में 200 रुपये की कटौती की जा सकती है। यह राहत सरकार सिलेंडर पर सब्सिडी के तौर पर देगी। पिछले दिनों भी सूत्रों के हवाले से ऐसी खबर आई थी कि सरकार पीएम किसान सम्मान निधि योजना की रकम में इजाफा कर सकती है और एलपीजी सिलेंडरों की कीमत घटाई जा सकती है। दरअसल सरकार सब्सिडी देने जैसा फैसला अभी से ही इसलिए करना चाहती है ताकि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के चुनाव में भी इसका फायदा मिल सके। इन तीनों राज्यों में इसी साल के नवंबर तक विधानसभा के इलेक्शन होने वाले हैं। इसके अलावा तेलंगाना में भी इसी साल चुनाव होने हैं।

Advertisement

पीएम नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त के अपने भाषण में भी महंगाई से राहत देने के लिए कदम उठाने की बात कही थी। उसके बाद यह फैसला होना उसी कड़ी में देखा जा रहा है। खबर है कि केंद्र सरकार की ओर से इस पर फैसला ले लिया गया है और कभी भी इसके बारे में ऐलान किया जा सकता है। माना जा रहा है कि सरकार इसके जरिए विपक्ष के एक दांव की काट कर सकेगी, जो उसे महंगाई के मोर्चे पर घेरता रहा है। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में सिलेंडरों की महंगाई को कांग्रेस ने मुद्दा बनाया था और उसका असर भी दिखा था। ऐसे में लोकसभा चुनाव और उससे पहले कई राज्यों के विधानसभा चुनाव को देखते हुए सरकार पहले ही महंगाई से बड़ी राहत देने की तैयारी कर चुकी है।

Advertisement

प्रधानमंत्री मोदी ने लाल किले से अपने भाषण में कहा था कि बीते एक साल में हमने महंगाई को नियंत्रित करने के लिए भरसक प्रयास किए हैं। लेकिन हम इतने पर ही रुकने वाले नहीं हैं। मेरा प्रयास निरंतर जारी रहेगा। पीएम मोदी ने महंगाई रोकने के उपायों को लेकर कहा था कि हमारी स्थिति दुनिया से अच्छी है, इतने से ही संतोष नहीं कर सकते। हमें देशवासियों को महंगाई से राहत दिलाने के लिए कुछ और कदम उठाने हैं और हम ऐसा करके रहेंगे। प्रधानमंत्री ने यह वादा ऐसे समय में किया था, जब जुलाई में खुदरा महंगाई की दर 7.44 फीसदी पहुंच गई थी। इसके अलावा रिजर्व बैंक ने भी वित्त वर्ष 2024 के लिए महंगाई के अनुमान को बढ़ाकर 5.4 फीसदी करने का फैसला लिया है।

उन्होंने दुनिया का हवाला देते हुए कहा था, ‘दुनिया अब भी कोरोना महामारी के असर से पूरी तरह उबरने के लिए प्रयास कर ही रही है। इसी बीच युद्ध ने एक और समस्या खड़ी कर दी है। पूरी दुनिया ही महंगाई के संकट से जूझ रही है। हमारी स्थिति थोड़ी बेहतर है, लेकिन हम इतने से ही संतोष नहीं कर सकते। हमें जनता को महंगाई से राहत दिलाने के लिए कुछ और कदम उठाने होंगे और मैं यही नहीं रुकूंगा। इसके लिए प्रयास करूंगा।’ लाल किले से उनके भाषण के बाद से ही महंगाई में राहत वाले कुछ फैसलों की उम्मीद की जा रही थी।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button