देश

बढ़ती ठंड में अंगीठी सेंकना पड़ा भारी…..पति-पत्‍नी बेहोश, गर्भ में पल रहे बच्‍चे की हुई मौत

(शशि कोन्हेर) : नैनीताल शहर में बढ़ती ठंड में बंद कमरे में अंगीठी सेंकना खतरे का सबब बन रहा है। यहां अंगीठी की गैस लगने से दंपती मूर्छित हो गया। गैस लगने से गर्भवती महिला के गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत हो गयी। फिलहाल महिला को अस्पताल में भर्ती कर उपचार दिया जा रहा है।

Advertisement


जानकारी के मुताबिक तल्लीताल निवासी ललित ने शनिवार रात कमरे में अंगीठी जलाई थी। खाना खाने के बाद ललित व उसकी पत्नी दीपिका दोनों सो गए। देर रात एकाएक ललित का सिर घूमने लगा तो अंगीठी की गैस सिर चढ़ने पर उसने फोन कर पड़ोसियों को सूचना दी तो पड़ोसियों को दोनों मूर्छित पड़े मिले।

Advertisement


डॉक्‍टर ने गर्भ में पल रहे भ्रूण की मौत की पुष्टि की
तत्काल दोनों को बीडी पांडे अस्पताल लाया गया। जहां दोनों को भर्ती कर उपचार दिया जा रहा था। रविवार सुबह होश में आने के बाद चिकित्सकों को महिला के गर्भवती होने की जानकारी मिली। अल्ट्रासाउंड कराया गया तो गर्भ में पल रहे भ्रूण में हलचल हो रही थी, मगर देर शाम जांच के दौरान हलचल बंद हो गयी।

Advertisement


पीएमएस डॉ एलएमएस रावत ने गर्भ में पल रहे भ्रूण की मौत की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि फिलहाल महिला को ऑब्जर्वेशन के लिए अस्पताल में भर्ती रखा गया है। 24 घंटे बाद ऑपरेशन कर मृत भ्रूण को निकाला जाएगा।


अंगीठी में कोयला व लकड़ी जलाने से कार्बन मोनो आक्साइड का लेवल बढ़ जाता है। बंद कमरे में यदि आक्सीजन लेवल कम हुआ तो बड़ा खतरा बन सकता है। कमरे में अंगीठी जलाने पर खिड़की दरवाजे खुले रखें। साथ ही हीटर व ब्लोवर जलाते समय भी कमरे में वेंटिलेशन का ध्यान रखा जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button