देश

33 साल बाद राज्यसभा से रिटायर हो रहे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, इन 54 का भी कार्यकाल हो रहा खत्म..

Advertisement

राज्यसभा में 33 साल की लंबी पारी खेलने के बाद पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह रिटायर हो गए हैं। उनके साथ ही राज्यसभा के 54 सांसदों का कार्यकाल खत्म हो रहा है। इनमें से कई लोकसभा का चुनाव लड़ रहे हैं तो कई सांसद ऐसे हैं जिनकी राज्यसभा में वापसी भी हो रही है।

Advertisement

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह 3 अप्रैल यानी बुधवार को राज्यसभा से रिटायर हो रहे हैं तो वहीं कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी राज्यसभा में डेब्यू करने जा रही हैं। वह अब तक लोकसभा सांसद रहीं लेकिन इस बार रायबरेली से चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है।

Advertisement

डॉ. मनमोहन सिंह को अर्थव्यवस्था से संबंधित कई बड़े फैसले लेने के लिए जाना जाता है। 1991 में पहली बार वह राज्यसभा पहुंचे थे और उन्होंने पीवी नरसिम्हा राव की सरकार में वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी संभाली थी। इसके बाद वह 2004 से 2014 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे। अब वह 91 साल के हो गए हैं।

Advertisement

55 में से सात केंद्रीय मंत्री भी हैं जो कि राज्यसभा से रिटायर हो रहे हैं। इनमें शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया, सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री राजीव चंद्रशेखऱ, पशुपालन और मत्स्य पालन मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला, विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन, सूक्ष्म एवं लघु मध्यम उद्योग मंत्री नारायण राणे और सूचना प्रसारण राज्य मंत्री एल मुरुगन शामिल हैं।

Advertisement

इसके अलावा रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव और पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव का भी कार्यकाल बुधवार को खत्म हो रहा है। इस बार एल मुरुगन और अश्विनी वैष्णव को छोड़कर बाकी सभी रिटायर हो रहे मंत्री लोकसभा चुनाव  लड़ रहे हैं।

मंगलवार को ही राज्यसभा में 49 सदस्य रिटायर हो गए हैं। वहीं बुधवार को पांच और रिटायर हो जाएंगे। इस तरह कुल 54 सांसद रिटायर हो रहे हैं। इनमें समाजवादी पार्टी की जया बच्चन भी शामिल हैं। हालांकि उन्हें दूसरे कार्यकाल के लिए नामित किया जा चुका है। आरजेडी के मनोज झा को भी अगले कार्यकाल के लिए नामित किया गया है। कर्नाटक से नसीर हुसैन (कांग्रेस) को फिर से राज्यसभा भेजा जा रहा है।

रिटायर होने वाले अन्य सदस्यों में भाजपा के मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी भी शामिल हैं। वह इस बार लोकसभा चुनाव में उतर रहे हैं। इसके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और सुशील कुमार मोदी भी रिटायर हो रहे हैं। कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी का भी कार्यकाल मंगलवार को समाप्त हो गया है। वह हिमाचल प्रदेश में अपना चुनाव हार गए हैं।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button