देश

महिला अधिकारी ने आईएएस पर लगाया सेक्स स्कैंडल का आरोप

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : राजस्थान में अधिकारी पूजा मीना ने आईएएस अधिकारी पवन अरोड़ा पर सैंक्स स्कैंडल चलाने और हेरेसमेंट करने के गम्भीर आरोप लगाए है। पूजा मीना का आरोप है- औरतों को मेरे पीछे लगा रखा है। उन औरतों को अधिकारियों से जोड़ता है, ताकि उनक को फंसाकर रखे। मुझसे जुड़ेंगी तो इनकी सच्चाई उजागर होगी। सच्चाई को उजागर होने से बचाने के लिए सारी हरकतें करता है। फेक न्यूज लगाना।

Advertisement

फेक वीडियो बनाना, पेक आईडी बनाना, मेरी लोकेश ट्रैस करना, हैकिंग करना। झूठे मैसेज बना देगा। चार्जशीट बना देगा। आईएएस पवन अरोड़ा बहुत गंदे आदमी हैं। वे राजस्थान सरकार के सबसे बदमाश आदमी हैं। पवन अरोड़ा मुझे प्रताड़ित करते हैं। जब वे डीएलबी डिपार्टमेंट में थे, तभी से महिलाओं का ग्रुप बना रखा था और डिपार्टमेंट में सेक्स रैकेट चला रखा था।

Advertisement

डीएलबी डायरेक्टर ने पवन अरोड़ा को दिया प्रोटेक्शन

पूजा मीना ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हृदेश कुमार शर्मा पहले डायरेक्टर है डीएलबी का जिसने पवन अरोड़ा को प्रोटेक्शन दिया है। पहले आज तक किसी भी अधिकारी ने इतना प्रोटेक्शन नहीं दिया मेरी जितनी भी चार्जशीट बनाई गई, फेक बनाई गई, कोई रिकाॅर्ड नहीं है। फर्जी चार्जसीट बनाने वाला है महिमा डांगी और पवन अरोड़ा। मैं इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराऊंगी।

कोर्ट जाऊंगी। बहुत दुर्भाग्य की बात है कि यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल पवन अरोड़ा के साथ मिला हुआ है। क्योंकि यह पहले डीएलबी डायरेक्टर था। शांति धारीवाल जी ने भी अन्याय किया है। बदमाश लोगों को धारीवाल प्रोटेक्शन करते हैं। अच्छे अधिकारियों के साथ अन्याय होता है।  बता दें, आईएएस पवन अरोड़ा डीएलबी के निदेशक रह चुके हैं। वर्तमान में राजस्थान हाऊसिंग बोर्ड के आयुक्त है।

गहलोत के मंत्री बदमाश को संरक्षण देते हैं

पूजा मीना ने कहा कि आईएएस पवन अरोड़ा बहुत गंदे आदमी हैं। वे राजस्थान सरकार के सबसे बदमाश आदमी हैं। पवन अरोड़ा मुझे प्रताड़ित करते हैं। जब वे डीएलबी डिपार्टमेंट में थे, तभी से महिलाओं का ग्रुप बना रखा था और डिपार्टमेंट में सेक्स रैकेट चला रखा था। 16 दिन पहले ही पूजा मीणा को झालावाड़ नगर परिषद के आयुक्त के पद पर नियुक्त किया गया था।

Advertisement

लेकिन 9 जनवरी 2023 को अचानक दो बार हुए तबादलों के ताबड़तोड़ क्रम के बाद पूजा मीडिया ने वर्तमान डीएलबी डायरेक्टर ह्रदयेश शर्मा पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। दरअसल, पूजा मीणा के तबादले का आदेश हृदेश शर्मा ने ही निकाला है। पूजा मीणा ने रोते हुए राजस्थान सरकार के यूडीएच मंत्री और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नजदीकी शांति धारीवाल के लिए कहा कि वे पवन अरोड़ा को संरक्षण देते हैं।

Advertisement

मंत्री धारीवाल ठीक आदमी नहीं है

झालावाड़ नगरपरिषद की  आयुक्त पूजा मीणा का आरोप है कि ‘मंत्री शांति धारीवाल ने पूर्व डीएलबी डायरेक्टर पवन अरोड़ा को संरक्षण दे रखा है। राजस्थान सरकार के मंत्री शांति धारीवाल ठीक आदमी नहीं है। उन्होंने IAS पवन अरोड़ा को संरक्षण दे रखा है। इसी पवन अरोड़ा की वजह से मुझे लगतार परेशान किया जा रहा है।’ वहीं यह आईएएस अधिकारी पिछले सात-आठ सालों से मेरा हरसमेंट कर रहा है।

अभी भी पवन अरोड़ा ने डीएलबी डायरेक्टर से कहकर मुझे एपीओ करा दिया।  बता दें, जनवरी को नगर परिषद झालावाड़ में आयुक्त पद से पूजा मीणा का तबादला नागौर नगर परिषद में आयुक्त के पद पर कर दिया गया। फिर उसी दिन आदेश में संशोधन कर उन्हें नई पदस्थापना के आदेशों की प्रतीक्षा में रखते हुए निदेशालय में भेज दिया गया। हालांकि, 10 जनवरी को एक और नया तबादला आदेश निकाल कर उन्हें जयपुर हैरिटेज नगर निगम में उपायुक्त पद पर पोस्टिंग दे दी गई।

पवन अरोड़ा ने फोन नहीं किया रिसीव

महिला के आरोपों के संबंध में जब पवन अरोड़ा को फोन किया तो उन्होंने अटेंड नहीं किया। हालांकि, आईएएस अरोड़ा ने इन आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है।  पूजा मीणा ने बताया, ”आईएएस पवन अरोड़ा बहुत गंदे आदमी हैं। वे राजस्थान सरकार के सबसे बदमाश आदमी हैं। पवन अरोड़ा मुझे प्रताड़ित करते हैं। जब वे डीएलबी डिपार्टमेंट में थे, तभी से महिलाओं का ग्रुप बना रखा था और डिपार्टमेंट में सेक्स रैकेट चला रखा था।’  उल्लेखनीय है कि पवन अरोड़ा शहरी निकाय विभाग (डीएलबी) के निदेशक रह चुके हैं। वर्तमान में वे राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के आयुक्त हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button