छत्तीसगढ़बिलासपुर

एक साथ दर्जनों ट्रेनें रद्द करने के खिलाफ कांग्रेस ने नेहरू चौक पर किया उग्र प्रदर्शन…और सांसद अरुण साव के निवास का घेराव

(दिलीप जगवानी) : बिलासपुर – एक्सप्रेस, पैसेंजर गाड़ियों का परिचालन रद्द करने और छोटे छोटे स्टापेजो को समाप्त करने के विरोध मे काँग्रेस नेताओं ने उग्र प्रदर्शन किया. इसके लिए केंद्र सरकार को दोषी ठहराते हुए प्रदर्शनकारियों ने सांसद अरुण साव का सरकारी आवास घेरने कोशिश की.

Advertisement

काँग्रेस का आरोप हैं चहेते उद्योगपतियों को केंद्र सरकार के द्वारा मुंहमांगा कोयला उपलब्ध कराया जा रहा हैं इसके लिए यात्री सहूलियतों को ताक पर रख ट्रेनों का परिचालन लगातार रद्द किया है. शहर विधायक शैलेष पांडे ने कहा रेल्वे का  निजीकरण करने मोदी सरकार की य़ह सोची समझी चाल हैं।

Advertisement

नेहरू चौक पर आयोजित एक दिवसीय धरना प्रदर्शन के दौरान छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल के अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने कहा आम जनता को इससे होने वाली परेशानी से जिसे कोई सरोकार नहीं हैं उस सरकार को देश का नेतृत्व करने का भी कोई अधिकार नहीं हैं. चंद पूंजीपतियों के लिए लाखों लोगों को ट्रेन के सफर से वंचित किया जा रहा हैं और उनके सांसद चुप है.

Advertisement

कॉंग्रेस का आरोप हैं कोल परिवहन के लिए केंद्र सरकार ने सारी हदें पार कर दी है. लगातार कोल अपूर्ति के बाद भी कमी बताया जा रहा हैं कह्ते हुए शहर अध्यक्ष विजय पांडे ने सवाल किया अखिर छत्तीसगढ़ का कोयला कहाँ जा रहा हैं केंद्र सरकार स्पष्ट करे.

धरने के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और बिलासपुर सांसद अरुण साव का सरकारी आवास घेराव सभी आगे बढ़े. चाक चौबंद व्यवस्था के साथ मौजूद पुलिस अधिकारी और जवानों ने कॉंग्रेसियो को रोकने पूरी ताकत लगा दी. दोनों के बीच झूमा झटकी हुई. सांसद के नेहरू चौक के पास सरकारी बंगले के आसपास की गई बेरी केटिंग मे सभी को रोक लिया. आंदोलन के अंतिम चरण मे रेलमंत्री के नाम जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button