Uncategorized

चच्‍चू अभी से रास्‍ता तय कर लो अपना’, शिवपाल का बहाना, अखिलेश पर निशाना….. 

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : यूपी विधानसभा मॉनसून सत्र का सबसे हंगामेदार दिन शुक्रवार यानी आज रहा। आज नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव और सीएम योगी के भाषण पर पूरे प्रदेश की नज़र थी। पहले अखिलेश यादव बोले। उन्‍होंने सीएम के सामने सरकार पर आरोपों की झड़ी लगा दी।

Advertisement

इसके बाद जब सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने बोलना शुरू किया तो बिंदुवार ढंग से एक-एक कर अखिलेश के सभी आरोपों का जवाब दिया। इस दौरान उन्‍होंने शिवपाल के बहाने तंज कसा तो पूरा सदन ठहाकों से गूंज उठा। सीएम ने कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव में सपा का खाता भी नहीं खुलने वाला है। शिवपाल की ओर इशारा करते हुए उन्‍होंने कहा, ‘चच्‍चू अभी से रास्‍ता तय कर लो अपना।’

Advertisement

सीएम ने हाल में एनडीए में दोबारा शामिल हुए सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्‍यक्ष ओमप्रकाश राजभर का नाम लिए बगैर कहा कि अपने मित्र को ही देखिए। अखिलेश यादव ने अपने भाषण में आवारा पशुओं और टमाटर की महंगाई के मुद्दे पर सरकार को घेरा थी।

सीएम योगी ने इसका जवाब देते हुए अखिलेश पर पलटवार किया। उन्‍होंने कहा कि मुझे नेता विरोधी दल के भाषण को सुनकर यही लगा कि 2014, 2017, 2019 और 2022 का जनादेश हमें यों ही नहीं मिला।

उन्‍होंने कहा कि जिस सांड की आप बात कर रहे हैं न, वो खेतीबाड़ी का पार्ट होता है। आपके जमाने में ये (सांड) बूचड़ख़ाने के हवाले होते थे। हमारे समय में ऐसा नहीं है। सीएम ने तंज कसते हुए कहा कि कुछ लोग जन्म से चांदी के चम्मच में खाते हैं।

वे गरीब और किसान की पीड़ा को क्या समझेंगें। चार बार जनता ने जनादेश हम लोगों को ऐसा नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि नेता विरोधी दल को जमीनी हकीकत की कोई जानकारी नहीं है। कुछ लोग अपने कालखंड को नहीं देखते हैं।

शिवपाल जी के साथ अन्याय हुआ
सीएम योगी ने शिवपाल का जिक्र कई बार किया। उन्‍होंने कहा कि ‘सोना चांदी से प्यार करने वाले लोग अन्नादाता किसान की समस्या क्या समझेंगें। परिवार में सत्ता का संघर्ष आगे जा रहा है। शिवपाल जी ने जितने पापड़ बेले हैं उनके साथ अन्याय हुआ है। ये लोग शिवपाल जी की कीमत को नहीं समझते हैं।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button