Uncategorized

खालिस्तानी की हत्या पर कनाडा ने भारत के राजनयिक को निकाला, रिश्ते और बिगड़े

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : खालिस्तान समर्थक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या की जांच को लेकर कनाडा ने एक भारतीय राजनयिक को निष्कासित कर दिया है। खबर है कि कनाडा ने निज्जर की हत्या में भारत सरकार के शामिल होने के आरोपों की जांच तेज कर दी है। ट्रूडो ने इस मामले को संसद में भी उठाया और बताया कि जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने भी इसे लेकर सवाल किया गया था।

Advertisement

निज्जर की 18 जून को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। ट्रूडो का कहना है कि कनाडा की सुरक्षा एजेंसियां निज्जर की हत्या की जांच कर रही हैं। उन्होंने संसद को बताया कि पीएम मोदी से कहा गया है कि इस मामले में भारत सरकार किसी भी तरह से शामिल होती है, तो यह स्वीकार्य नहीं होगा और जांच में सहयोग की मांग भी की गई है।

Advertisement

ट्रूडो ने कहा ‘कनाडा के नागरिक की कनाडा की धरती पर हत्या में किसी भी विदेशी सरकार का शामिल होना स्वीकार्य नहीं होगा।’ उन्होंने कहा, ‘बीते कुछ हफ्तों से कनाडा की सुरक्षा एजेंसियां सक्रिय होकर कनाडा के नागरिक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या और भारत सरकार के एजेंट्स के बीच संभावित तार होने की जांच कर रही हैं।’

इधर, कनाडा की विदेश मंत्री मेलनी जॉली ने भी बताया कि कनाडा में भारतीय खुफिया प्रमुख को बाहर का रास्ता दिखाया गया है। हालांकि, अधिकारी का नाम सार्वजनिक नहीं किया गया। उन्होंने कहा, ‘अगह यह सच साबित होता है, तो यह हमारी संप्रभुता और उस नियम का बड़ा उल्लंघन होगा, जो तय करता है कि देश आपस में किस तरह काम करेंगे।’ जॉली ने यह भी कहा कि ट्रूडो ने इस मामले को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के सामने भी उठाया था।

कनाडा सरकार में मंत्री डॉमिनिक ले ब्लांक ने कहा कि कनाडा के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और जासूसी सेवा के प्रमुख इस मामले को लेकर भारत पहुंचे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button