राजनांदगांव

बजट निराशावादी, देश में बेरोजगारी एवं मंहगाई रोकने कोई प्रावधान नही, लोगो पर आर्थिक भार डालने वाला बजट : हेमा देशमुख

(उदय मिश्रा) : राजनांदगांव – नगर निगम की महापौर हेमा सुदेश देशमुख ने देश के बजट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस बजट से किसानों सहित मध्ययम एवं गरीब वर्ग के लोगों को कोई राहत नहीं दी गई है। 9.27 प्रतिशत विकास दर का आर्थिक सर्वेक्षण आया है, जो देश को पिछड़ा बनाता हैै और यह देश अर्थ व्यवस्था को कमजोर करता है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण लाखो लोग बेरोजगार हो गये है उसकी चिंता नहीं की गयी। गरीब जनता को कोई राहत नहीं दी गई है। महंगाई कम करने जमीनी स्तर पर सुदृढ़ बनाने नजर अंदाज किया गया। आनलाईन योजना के माध्यम से लोगों को ठगा जा रहा है।

Advertisement


महापौर देशमुख ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत की बात करने वाली केंद्र सरकार युवाओं को रोजगार देने में विफल रही स्वास्थ्य चिकित्सा की कमजोरियों को दबाने का प्रयास किया गया टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया गया जबकि वैश्विक महामारी कोरोना से जूझ रही अर्थव्यवस्था को राहत देने का कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए गृहणीयों को निराशा हाथ लगी है रईसों को फायदा पहुंचाने वाला बजट है आम नागरिकों को कोई राहत मिलने वाली नहीं है। निराशावादी बजट में पिछड़ा वर्ग अनुसूचित जाति जनजाति के लिए कोई विशेष लाभ नहीं दिया गया है।

Advertisement
केंद्रीय बजट पर प्रतिक्रिया : महापौर हेमा सुदेश देशमुख, राजनांदगांव

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button