देश

झारखंड कांग्रेस विधायकों की बड़ी दुर्दशा, पाई-पाई का हिसाब मांग रही CID, परिजन का भी छूट रहा पसीना

(शशि कोन्हेर) : बंगाल में 49 लाख रुपये के साथ गिरफ्तार कांग्रेस के तीनों विधायकों के खिलाफ अनुसंधान कर रही बंगाल सीआइडी की टीम अब आय से अधिक संपत्ति के एंगल पर भी भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत अनुसंधान कर रही है।

Advertisement

बंगाल सीआइडी की टीम फिलहाल रांची में है। सीआइडी की टीम एक दिन पहले ही रांची आ गई थी और झारखंड पुलिस के सहयोग से पूरे मामले का अनुसंधान कर रही है। बंगाल सीआइडी गिरफ्तार विधायकों के स्वजन से चल-अचल संपत्ति से संबंधित जानकारी जुटा रही है।

Advertisement

परिजन से बंगाल सीआइडी ने की लंबी पूछताछ

Advertisement

टीम यह पता कर रही है कि विधायक बनने के पहले उनकी कितनी संपत्ति थी और विधायक बनने के बाद कितनी संपत्ति बनाई। रांची में खिजरी के विधायक राजेश कच्छप के धुर्वा सेक्टर टू स्थित सरकारी आवास में बंगाल सीआइडी ने उनकी पत्नी, मां व अन्य कार्यालय कर्मियों से लंबी पूछताछ की।

राजेश कच्छप के पिता गंभीर रूप से बीमार हैं और लालपुर के आर्किड अस्पताल में इलाजरत हैं। सूचना है कि बंगाल सीआइडी को राजेश कच्छप के राजा उलातू स्थित आवास से कुछ जमीन से संबंधित डीड मिले हैं जो विधायक बनने के बाद के बताए जा रहे हैं। अब विधायक बनने के बाद राजेश कच्छप ने कितने की जमीन खरीदी और कहां-कहां निवेश किया, इसपर टीम ने लंबी पूछताछ की है।

जानकारी मीडिया से साझा नहीं कर रही सीआइडी

सूचना है कि यही जानकारी कोलेबिरा के विधायक नमन विक्सल कोंगाड़ी के सरकारी आवास में भी बंगाल सीआइडी ने स्वजन से जुटाने की कोशिश की है। टीम को कई अहम जानकारियां मिली है। जामताड़ा के विधायक डा. इरफान अंसारी के पैतृक आवास से दो घंटे की छानबीन में बंगाल सीआइडी को कोई खास सफलता नहीं मिली थी।

विधायक के मधुपुर व रांची में भी आवास है, जहां सीआइडी के पहुंचने की सूचना मिली है। सीआइडी को उनके आवास से क्या कुछ मिला, इसकी जानकारी नहीं मिल सकी है। बंगाल सीआइडी ने अनुसंधान के बाबद सभी जानकारियां गोपनीय रखा है। मीडियाकर्मियों से फिलहाल दूरी बना रखा है।

Advertisement

जामताड़ा, सिमडेगा व नामकुम स्थित आवास पर सन्नाटा

Advertisement

बंगाल सीआइडी की टीम सोमवार से ही रांची में है। सोमवार को टीम जामताड़ा के विधायक डा. इरफान अंसारी के जामताड़ा स्थित पैतृक आवास व खिजरी के विधायक राजेश कच्छप के नामकुम के राजा उलातू स्थित पैतृक आवास पर गई थी और लंबी छानबीन के बाद देर रात तक वापस लौटी थी।

अगले दिन यानी मंगलवार को सिमडेगा में कोलेबिरा के विधायक नमन विक्सल कोंगाड़ी के आवास सहित अन्य दोनों विधायकों के आवास पर भी सन्नाटा पसरा हुआ था। यहां विधायक से जुड़े कुछ लोग ही थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button