बिलासपुर

BIG BREAKING : संजू त्रिपाठी हत्याकांड से उठा पर्दा, संजू के पिता व भाई ने रची थी हत्या की साजिश….हत्या का मुख्य आरोपी लखनऊ से हुआ गिरफ्तार

Advertisement

(आशीष मौर्य के साथ जयेंद्र गोले) : बिलासपुर – 14 दिसंबर की शाम सकरी थाना से कुछ दूरी पर अज्ञात हमलावरों ने, कुदुदंड निवासी संजू त्रिपाठी की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। इस हत्याकांड के बाद से ही शक की सुई संजू त्रिपाठी के भाई व पिता कपिल त्रिपाठी पर आकर अटक रही थी, बिलासपुर पुलिस ने लखनऊ पुलिस की मदद से संजू त्रिपाठी के पिता जयनारायण त्रिपाठी, भाई कपिल त्रिपाठी समेत 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

Advertisement

एसएसपी पारुल माथुर ने बताया कि वर्चस्व क़ी लड़ाई के चलते कपिल ने हत्या की साजिश रची थी जिसमे उसके पिता समेत 12 लोगो ने मिलकर इस हत्या को अंजाम दिया। शूटर्स 10 लाख रुपये में उत्तर प्रदेश से बुलाये गए थे। शूटर्स अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर है।

Advertisement

एसएससी पारुल माथुर ने बताया कि मृतक संजू त्रिपाठी ने अपने भाई कपिल त्रिपाठी को धमकी दिया था कि वह उसे जान से मरवा देगा वही कपिल ने भी विवाद विवाद में संजू त्रिपाठी को मरवाने की धमकी दिया था दोनों को इस बात की आशंका थी कि उनकी हत्या कभी भी हो सकती है, इसलिए कपिल ने संजू को पहले ही रास्ते से हटा दिया।

पुलिस की कार्रवाई को गुमराह करने के लिए, संजू त्रिपाठी के परिवार वालों ने दो लोगों को फर्जी तरीके से मामले में शामिल करके. उन्हें आरोपी बनाने की योजना थी. पुलिस ने जो हथियार जब्त किए हैं वाह संजू त्रिपाठी के परिवार वालों से जब्त किया गया है।

घटना में प्रयुक्त वाहनो का विवरण

प्रकरण में आरोपीगणों द्वारा घटना में प्रयुक्त वाहन एक नग एलांट्रा कार कमांक सी. जी. 10. एक्स.5566 एवं डिजायर कार सफेद रंग की क्रमांक सी.जी.10.बी.एल.0577 आरोपी अमन गुप्ता की थी, एक स्कार्पियों कार सफेद रंग की कमांक सी.जी. 10 ए.यू 9953 जिसे आरोपी सुमीत निर्मलकर द्वारा किराये पर आकाश कोशले से लिए थे तथा एक बलेनो कार नीले रंग की क्रमांक सी. जी. 10. एफ 1372 का प्रयोग किया गया गया है एलाण्ट्रा कार में आरोपी अमन गुप्ता, प्रेम श्रीवास, भरत तिवारी, रवि तिवारी बैठे, सफेद डिजायर कार में अज्ञात 03 शुटर्स एवं आशीष तिवारी एवं राजेन्द्र ठाकुर बैठे व बलेनो कार में 02 अज्ञात शुटर्स एवं स्कार्पिया सुमित निर्मलकर बैठकर आरोपी कपिल त्रिपाठी के घर निकले जो घुरू अमेरी रास्ते से गीता पैलेस होकर उसलापुर होकर मुख्य मार्ग में आए सबसे पहले डिजायर कार फिर बलेनो उसके बाद एलण्ट्रा कार एवं सबसे पीछे सफेद स्कार्पियो थी घटना स्थल सबसे पहले डिजायर कार एवं बलेनो कार थी एवं एलाण्ट्रा कार रेक करने वास्ते कानन पेण्डारी के आगे बढ़ गया स्कार्पियो वाहन घटना स्थल के पास खडी थी जो घटना घटित होने के बाद रायपुर रोड की ओर भाग गयी एवं एक डिजायर कार एवं बलेनो कार कोटा रोड तरफ भागे उसके बाद रेकी करने वाला वाहन एलाण्ट्रा रेकी कर वापस कोटा मोड पहुचे थे जिन्होने घटना में प्रयुक्त नीले रंग के बलेनो कार को देख काम हो जाने के अंदेशा पर बलेनो के पीछे एलाण्ट्रा चलने लगी एवं डिजायर भी पीछे पीछे आ गयी कोटा रोड भरनी के आगे पोडी ग्राम पहुंच मार्ग में एक सुनसान जगह में बलेनो कार को खड़ा कर सफेद स्वीफट डिजायर कार में 05 नफर अज्ञात शुटर्स व प्रेम श्रीवास तथा सफेद एलाण्ट्रा कार में अमन गुप्ता, राजेन्द्र ठाकुर, आशीष तिवारी, भरत तिवारी, रवि तिवारी बैठकर शहडोल की तरफ भाग गये डिजायर कार में सवार युवक शहडोल में नही मिलने से एलेंट्रा में सवार आरोपी राजेन्द्र ठाकुर, आशीष तिवारी, भरत तिवारी, रवि तिवारी को अमन गुप्ता शहडोल में छोडकर सुबह सुबह वापस अपने घर आ गया और गाडी अपने घर के पीछे पार्क कर दिया था

देखिये पुलिस द्वारा जारी की गई विज्ञप्ति…..👇

Advertisement

Advertisement
मृतक का भाई मुख्य आरोपी कपिल त्रिपाठी

बता दें कि घटना के वक्त मृतक अपनी एमजी हेक्टर कार में सवार था, अज्ञात हमलावर पहले से ही घात लगाए वहां पर मौजूद थे। जैसे ही संजू त्रिपाठी चौक पर पहुँचा हमलावरों ने कार के दोनों तरफ से 8 राउंड गोली फायरिंग की, गोली मृतक के सर और छाती के आसपास लगने के कारण उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button