देश

उद्धव के इस्तीफे के बाद कंगना रनौत ने कहा… जब पाप बढ़ जाता है तो सर्वनाश होता है और उसके बाद…

(शशि कोन्हेर) : चर्चित अभिनेत्री कंगना रनौत ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से उद्धव ठाकरे के इस्तीफ़े के बाद एक वीडियो जारी करके अपनी प्रतिक्रिया दी है.

Advertisement

इंस्टाग्राम पर उन्होंने लिखा है- जब पाप बढ़ जाता है, तो सर्वनाश होता है और उस के बाद सृजन होता है. कंगना ने आगे लिखा है- और जीवन का कमल खिलता है. उद्धव ठाकरे की अगुआई वाली महाविकास अघाड़ी सरकार के आने के बाद कंगना रनौत कई घटनाओं को लेकर विवादों में रही हैं.

Advertisement

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर आरोप-प्रत्यारोप से शुरू हुआ मामला उनके दफ़्तर का एक हिस्सा गिराए जाने तक पहुँच गया. कोर्ट की दख़ल के बाद उस पर रोक ज़रूर लगी, लेकिन तब तक उनके दफ़्तर को काफ़ी नुक़सान पहुँच चुका था. इसके बाद बयानबाज़ी का भी दौर चला. शिवसेना के सांसद संजय राउत के साथ उनकी काफ़ी तकरार भी हुई.

Advertisement

उद्धव ठाकरे सरकार बनने के बाद कंगना रनौत ने बयान दिया था कि वो मुंबई में ख़ुद को सुरक्षित महसूस नहीं करती हैं. कंगना रनौत ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर से की थी, जिसके बाद संजय राउत और कंगना के बीच काफ़ी समय तक ज़ुबानी जंग भी जारी रही.

अब शिवसेना की अगुआई वाली सरकार के इस्तीफ़े के बाद अपने वीडियो संदेश में कंगना ने कहा- 1975 के बाद ये समय भारत के लोकतंत्र का सबसे महत्वपूर्ण समय है. 1975 में लोकनेता जेपी नारायण की एक ललकार ‘सिंहासन छोड़ों कि जनता आती है’, से सिंहासन गिर गए थे.

कंगना ने कहा- 2020 में मैंने कहा था कि लोकतंत्र एक विश्वास है और सत्ता के घमंड में आकर जो इस विश्वास को तोड़ता है, उसका घमंड टूटना भी निश्चित है. ये किसी व्यक्ति विशेष की कोई शक्ति नहीं है. ये शक्ति है एक सच्चे चरित्र की.

उन्होंने आगे कहा-हनुमान जी को शिव का 12वाँ अवतार माना जाता है और अगर शिवसेना ही हुनमान चालीसा को बैन कर दे, तो उनको शिव भी नहीं बचा सकते. हर हर महादेव. जय हिंद. जय महाराष्ट्र. बुधवार को उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के सीएम पद से इस्तीफ़ा दे दिया.

पिछले दिनों शिवसेना के विधायक एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में कई विधायकों ने मौजूदा सरकार के ख़िलाफ़ बग़ावत कर दी थी. पहले ये बाग़ी नेता गुजरात गए, फिर असम और कल गुवाहाटी पहुँचे. माना जा रहा है कि महाराष्ट्र में अब देवेंद्र फडणनवीस के नेतृत्व में सरकार बन सकती है, जिसे एकनाथ शिंदे का गुट समर्थन देगा.

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button