देश

स्ट्रांग रूम पर चौबीसों घंटे, दूरबीन से नजर रख रहे, एक प्रत्याशी और उनके कार्यकर्ता….

उत्तर प्रदेश चुनाव पर विभिन्न न्यूज चैनलों के एग्जिट पोल में बीजेपी की भारी जीत के बाद प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी सपा को धांधली की आशंका है। इसको देखते हुए समाजवादी पार्टी ने ईवीएम स्ट्रांग रूम पर निगरानी रखने का फैसला किया है। मेरठ जिले के हस्तिनापुर निर्वाचन क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार योगेश वर्मा गड़बड़ी रोकने के लिए दूरबीन से ईवीएम स्ट्रांग रूम पर नजर रखे हुए हैं। उन्होंने कहा कि सपा प्रमुख ने ईवीएम स्ट्रांग रूम और उसके आसपास की अन्य गतिविधियों पर नजर रखने का आदेश दिया है। हम 8 घंटे की तीन शिफ्ट में काम करेंगे। हम एग्जिट पोल में विश्वास नहीं करते हैं, अखिलेश यादव सीएम बनेंगे। हमारी बहुमत की सरकार बनेगी।

Advertisement

हस्तिनापुर में सपा प्रत्याशी योगेश वर्मा और उनके समर्थक दूरबीन लेकर स्ट्रांग रूम के बाहर डेरा डाले हुए हैं। वर्मा और उनके समर्थक 8 घंटे की शिफ्ट में 24 घंटे ईवीएम पर नजर रखे हुए हैं। ईवीएम की निगरानी के बारे में पूछे जाने पर वर्मा ने कहा कि उन्हें प्रशासन पर पूरा भरोसा है लेकिन वह जनादेश की रक्षा के लिए कोई मौका नहीं लेना चाहते।
एक्जिट पोल की भविष्यवाणी पर कि सत्तारूढ़ बीजेपी फिर से सरकार बना रही है, सपा नेता ने कहा कि पश्चिम बंगाल में क्या हुआ? एग्जिट पोल ने कहा था कि बीजेपी सत्ता में आएगी लेकिन दीदी (ममता बनर्जी) ने पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाई। एग्जिट पोल गलत हैं। और यह इतिहास रहा है कि हस्तिनापुर विधायक और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री एक ही पार्टी के हैं।

Advertisement

403 सदस्यीय उत्तर प्रदेश विधानसभा में, बहुमत का आंकड़ा 202 है और एग्जिट पोल ने बीजेपी को अपने सहयोगियों के साथ सहज बहुमत मिलने की भविष्यवाणी की थी। गौर हो कि टाइम्स नाउ, रिपब्लिक टीवी, सीएनएन न्यूज 18 और न्यूज एक्स चैनलों के एग्जिट पोल के अनुसार उत्तर प्रदेश की 403 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी के नेतृत्व वाले योगी सरकार को 326 और 211 के बीच सीट और समाजवादी पार्टी (सपा) के नेतृत्व वाले गठबंधन को 160 और 71 के बीच सीट मिलने का अनुमान है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button