play-sharp-fill
देश

इस अंदाज में होगा नए सांसदों का स्वागत, जानें- LS सचिवालय की क्या है तैयारी?

लोकसभा चुनावों का सातवां और आखिरी चरण का मतदान शनिवार (1 जून) को है। उसके बाद 4 जून को मतों की गिनती होने वाली है। यानी 4 जून को यह तय हो जाएगा कि 18वीं लोकसभा के माननीय सदस्य कौन-कौन बने हैं।

Advertisement

नए सदस्यों के स्वागत और उनकी खातिरदारी के लिए लोकसभा सचिवालय भी पूरे जोर-शोर से लगा हुआ है। इसके लिए कई व्यवस्थाएं की गई हैं। इतना ही नहीं अधिकारियों की एक स्पेशल टीम को इस काम के लिए लगाया गया है।

Advertisement

इस बार लोकसभा सचिवालय ने नए सांसदों के पंजीकरण प्रक्रिया को पूरी तरह से पेपरलेस और तकनीक आधारित बनाया है। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि नवनिर्वाचित सदस्यों के लिए पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन एकीकृत सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन के माध्यम से की जाएगी। पंजीकरण प्रक्रिया 5 जून से 14 जून के बीच जारी रहेगी और शनिवार- रविवार को भी रजिस्ट्रेशन जारी रहेगा।

Advertisement


4 जून को लोकसभा चुनाव की मतगणना के बाद सबसे पहले चुनाव आयोग निर्वाचित उम्मीदवारों की अधिसूचना जारी करेगा। इसके बाद नवनिर्वाचित सांसदों का दिल्ली आना शुरू हो जाएगा।

उनकी यात्रा से पहले लोकसभा सचिवालय के नोडल अधिकारी उनसे संपर्क करेंगे और दिल्ली पहुंचने पर एयरपोर्ट या रेलवे स्टेशनों पर उनका स्वागत करेंगे। इसके लिए लोकसभा सचिवालय विभिन्न टर्मिनलों पर विशेष स्वागत केंद्र बनवा रहा है।

नवनिर्वाचित सांसदों के हवाई, रेल या सड़क मार्ग से दिल्ली पहुंचने पर निर्धारित स्थानों पर स्वागत किया जाएगा। इसके बाद उन्हें संसद एनेक्सी एक्सटेंशन बिल्डिंग में लाया जाएगा, जहां उनका फिर से स्वागत किया जाएगा और उन लोगों को फोन कनेक्शन, नए बैंक खाते, संसद भवन में स्मार्ट एक्सेस कार्ड, उनके वाहनों के लिए फास्टैग स्टिकर और राजनयिक पासपोर्ट समेत कई दस्तावेज उपलब्ध कराए जाएंगे।

पहली बार निर्वाचित होकर आने वाले सांसद या जो एक अंतराल के बाद फिर से निर्वाचित होकर पहुंचे हैं, उनके दिल्ली के सरकारी गेस्ट हाउस और वेस्टर्न कोर्ट हॉस्टल परिसर में ठहरने की व्यवस्था की जाएगी और उन्हैं आवास भी आवंटित किया जाएगा। इसके अलावा निर्वाचित सांसदों को संविधान, लोकसभा के नियम और प्रक्रियाएं तथा कामकाज का संचालन और हैंडबुक समेत अन्य प्रकाशनों का एक सेट भी दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button