बिलासपुर

दवाओं पर GST गरीबो पर कुठाराघात, देश मे सस्ते ईलाज की जरूरत- कामरेड मजुमदार


बिलासपुर – छत्तीसगढ़ सेल्स प्रमोशन एम्प्लाईज़ यूनियन बिलासपुर ईकाई के तत्वावधान में सीएमडी चौक के पास आईएमए हालह मे मेडिसिन एण्ड हेल्थ विषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया , इस कार्यक्रम के प्रमुख वक्ता कॉमरेड ज्ञानशंकर मजुमदार (राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सीटू )
ने बताया कि हेल्थ के क्षेत्र में हमारा देश बहुत पिछड़ रहा है ‘ आयुष्मान भारत ‘ योजना में केन्द्र सरकार 70% और राज्य सरकार 30% राशि किश्त के तौर पर बीमा कंपनियों को देती हैं और उस पर मरीजों का ईलाज होता है यह बीमा कंपनियां प्राईवेट हैं जबकि सरकारी बीमा कंपनियों से इस योजना का क्रियान्वयन होना चाहिए. दवाओं के दाम में कमी होनी चाहिए जीवनरक्षक और आवश्यक दवाओं पर जीएसटी नहीं लगाना चाहिये , दवाओं के उत्पादन मूल्य पर टैक्स लगाना चाहिए न कि विक्रय मूल्य पर इन सभी प्रयोगों से दवाओं के दाम में भारी कमी आयेगी और मरीजों को उचित मूल्य पर अच्छी दवाऐं उपलब्ध हो सकेगी।

Advertisement


कॉम मजुमदार ने बताया कि मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव्स को ” ड्रग एण्ड कॉस्मेटिक एक्ट रेमेडीज़ ” के तहत यह संवैधानिक अधिकार प्राप्त है कि केवल वह ही डॉक्टरों को कंपनियों में निर्मित दवाओं के संबंध में कॉल कर सकते हैं , सेल्स प्रमोशन एम्प्लाईज़ एक्ट के तहत दवा प्रतिनिधियों को मिले कानूनी अधिकारों का जिक्र भी कॉम मजुमदार ने किया।

Advertisement


इस सेमिनार में बिलासपुर ईकाई के 250 मेडिकल. रिप्रेजेन्टेटिव ने भाग लिया इस सभा को कॉम रितेश तिवारी ( अध्यक्ष सीजीएसपीईयू) सोम शर्मा , राजेश शर्मा और रबी बैनर्जी ने संबोधित किया ! बिलासपुर ईकाई के अमित सिंह , लोकेश त्रिवेदी , नीरज त्रिवेदी , दिनेश पटेल , प्रोसेनजीत घोष सहित बड़ी संख्या में सदस्य उपस्थित रहे !

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button