बिलासपुर

सीपत थाना प्रभारी के प्रताड़ना से तंग आकर आरक्षक ने खुदकुशी करने की कोशिश….

बिलासपुर: (प्रांशु क्षत्रिय) सीपत थाना प्रभारी के प्रताड़ना से तंग आकर थाने में पदस्थ आरक्षक ने गुरुवार को थाने के भीतर ही फांसी के फंदे पर लटकने का प्रयास किया। मामले की जानकारी लगते ही पुलिस विभाग के अधिकारी जांच में सीपत थाना पहुंचे और आरक्षक को समझाइश दी। मिली जानकारी के अनुसार सीपत थाने में पदस्थ आरक्षक धर्मेन्द्र कश्यप बुधवार को थाने में ड्यूटी पर तैनात था, जिस दौरान किसी बात को लेकर थाना प्रभारी से आरक्षक की झड़प हो गई। इस दौरान थाना प्रभारी कृष्ण चंद सिदार ने आरक्षक को गाली- गलौज कर दिया। इस गाली-गलौज सुनने के बाद नाराज आरक्षक ने गुरुवार की सुबह थाने के विवेचक कक्ष के पंखे में गमछा डालकर फांसी के फंदे पर लटकने का प्रयास किया। बताया जा रहा हैं, जिस वक्त आरक्षक फांसी पर लटकने का प्रयास किया, उस वक्त थाने स्टाफ की गड़ना चल रही थी। गड़ना में उपस्थित पुलिसकर्मियों ने आरक्षक धर्मेंद्र कश्यप को किसी तरह से समझा बुझाकर रोका। इस घटना की जानकारी लगते ही डीएसपी उदयन बेहार सीपत थाना पहुंचें और आरक्षक को समझाइश दी।

Advertisement
टीआई कृष्ण चंद सिदार
आरक्षक धर्मेन्द्र कश्यप

थाना प्रभारी से स्टाफ हैं, परेशान:-

Advertisement

बताया जा रहा है, कि थाना प्रभारी कृष्ण चंद सिदार थाने के स्टाफ से हमेशा गाली-गलौज कर बात करते हैं। वही थाना स्टाफो को बार-बार फोन कर परेशान करते हैं, जिससे थाने में पदस्थ स्टाफ परेशान रहते हैं।

Advertisement

ड्यूटी और गाली गलौज से था, परेशान: आरक्षक धर्मेन्द्र

इस मामले को लेकर जब आरक्षक धर्मेन्द्र कश्यप से बात की गई, तो आरक्षक ने बताया की लगातार ड्यूटी करने से वह परेशान था। वहीं बुधवार की रात 12 बजे थाना प्रभारी ने उससे गाली-गलौज किया। जिसके चलते वह यह कदम उठाने को वह मजबूर हुआ।

थाना प्रभारी ने आरक्षक से मांगा माफीनामा :-

आरक्षक धर्मेन्द्र कश्यप ने बताया की डीएसपी द्वारा मुझे समझाने के बाद थाना प्रभारी कृष्ण चंद सिदार ने ऐसी गलती दोबारा नहीं करने की बात को लेकर माफीनामा मांगा।

टीआई ने कहां, ये आरोप गलत….

आरक्षक द्वारा लगाए गए इस आरोप के बाद जब थाना प्रभारी कृष्ण चंद सिदार से इस विषय में बात की गई, तो उन्होंने शुरू में फांसी लगाने वाली बात छुपाने की कोशिश की। वहीं बाद में कहां की फ्रस्ट्रेशन में हो जाता हैं। उन्होंने आगे कहां की मेरे से आरक्षक की कोई बातचीत नहीं हुई थी, यह आरोप गलत हैं।

Advertisement

उदयन बेहार, डीएसपी:-

इस मामले में डीएसपी उदयन बेहार से बात की गई, तब उन्होंने बताया की आरक्षक धर्मेन्द्र कश्यप से पूछताछ कर उन्हें समझाया हूं। आरक्षक सीपत थाने से कोटा जाना चाहता हैं, जिसे मेरे द्वारा फॉर्वड कर दिया गया हैं। शीघ्र ही आरक्षक के मांग अनुसार उनका ड्यूटी कोटा थाने में लगाया जायेगा।

सीपत टीआई को हटाने क्षेत्रवासियों ने दिया आवेदन:-

बता दे, थाना प्रभारी कृष्ण चंद सिदार के हठी व्यवहार से पुरे क्षेत्रवासी परेशान हैं। इस विषय को लेकर क्षेत्रवासियों ने एक मीटिंग की हैं। जिसके बाद थाना प्रभारी को सीपत थाने से हटाने की मांग कर, भाजपा के उच्च नेताओं से शिकायत कर आवेदन दिए हैं।

देशी शराब के साथ पकड़े और टीआई ने लेन देन कर छोड़ा:-

मिली जानकारी के अनुसार बीते शुक्रवार की रात मटियारी निवासी कमल सिसोदिया सीपत के काली मंदिर मोड के पास 50 पाव देशी मदिरा के साथ पकड़ाया था, जिसे थाने लाकर 25000 रूपये पैसों की लेनदेन कर 20 पाव देशी मदिरा में आबकारी एक्ट धारा 34,1 क, ख की कार्यवाही कर आरोपी को छोड़ दिया गया। इस मामले पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अर्चना झा से बात करने पर मामले की जांच कर दोषी पाए, जाने पर कार्यवाही करने की बात कहीं हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button