छत्तीसगढ़

फिर शुरू हुआ कलेक्टर जनदर्शन, कलेक्टर ने सुनी आम लोगों की समस्याएं..

Advertisement

बिलासपुर : तीन माह के अंतराल के बाद आम जनता से मुलाकात का साप्ताहिक कार्यक्रम जनदर्शन चुनावी आचार संहिता समाप्त होेने के बाद आज फिर से शुरू हो गया। कलेक्टर श्री अवनीश शरण ने आज साप्ताहिक जनदर्शन में दूर-दराज से आये ग्रामीणों, किसानों, बुजुुर्गाे और महिलाओं की समस्याओं को बड़े इत्मीनान से सुना।

Advertisement

उन्होंने किसानों से चर्चा कर खेती-किसानी और पर्याप्त खाद-बीज की उपलब्धता के बारे में जानकारी ली। जनदर्शन में कुछ समस्याओं का निराकरण मौके पर ही किया गया और कुछ समस्याओं के जल्द निराकरण के लिए कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिए। आज जनदर्शन में लगभग सौ लोगों ने कलेक्टर से मिलकर निजी एवं सामुदायिक समस्याओं से संबंधित आवेदन दिए।

Advertisement


साप्ताहिक जनदर्शन में आए सकरी तहसील के गोबंद निवासी श्री अब्दुल राशीद खान ने भूमि की मुआवजा राशि न मिलने की शिकायत करते हुए आवेदन दिया। इस संबंध में कलेक्टर ने एसडीओ तखतपुर को शीघ्र निराकरण के निर्देश दिए।

ग्राम घुरू निवासी श्रीमती अंजनी श्रीवास ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास निर्माण करवाने की मांग की। रोजी मजदूरी करने वाली श्रीमती अंजनी ने बताया उनके घर की स्थिति बहुत ही जर्जर हो गई है।

कलेक्टर ने सीईओ जनपद पंचायत तखतपुर को मामले का परीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही करने कहा। देवरीखुर्द की अंजनी शर्मा ने कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय बरतोरी में रसोइया पद पर नियुक्ति के लिए गुहार लगाई। श्रीमती अंजनी ने बताया कि उनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है और बच्चों के भरण-पोषण करने के लिए उनके पास कोई अन्य साधन नहीं है।

कलेक्टर ने शिक्षा विभाग को मामले को सौंपते हुए आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए। बिलासपुर तहसील के ग्राम गतौरी निवासी श्रीमती मिलापा बाई ने भूमि का सीमांकन कराने की गुहार लगाई।

कलेक्टर ने एसडीएम बिलासपुर को मामले का परीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए। मस्तुरी तहसील के ग्राम भनेसर निवासी श्री संतराम गेंदले ने पट्टा प्रदान किये जाने की मांग की। श्री संतराम ने बताया कि वे ग्राम भनेशर में पिछले 60 वर्षाें से मकान एवं बाड़ी बनाकर सपरिवार निवास कर रहे है। कलेक्टर ने मस्तुरी एसडीओ को मामला सौंपा।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button