play-sharp-fill
छत्तीसगढ़

क्या रद्द हो सकती है NEET परीक्षा ?  सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल..

Advertisement

NEET परीक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है. इस याचिका में NEET रिजल्ट को रद्द घोषित कर दोबारा परीक्षा की मांग की गई है. साथ ही मांग की गई है कि परीक्षा में गड़बड़ी के आरोपों की SIT जांच की जाए और 4 जून 2024 को आए नतीजों के आधार पर होने वाली काउंसिलिंग रोका जाए. NEET परीक्षा को लेकर ये याचिका तेलंगाना के अब्दुल्ला मोहम्मद फैज ने दाखिल की है.

Advertisement

दरअसल, NEET 2024 की परीक्षा में 23 लाख 33 हजार शामिल हुए थे. लोकसभा चुनाव के नतीजों वाले दिन 4 जून को नीट परीक्षा रिजल्ट जारी किया गया है. इस बार की परीक्षा में 67 छात्रों ने पहला स्थान हासिल किया है. उन्हें 720 में से पूरे 720 नंबर मिले हैं. जो हरियाणा के झज्जर से ताल्लुक रखने वाले एक ही सेंटर के हैं. हालांकि, नीट का रिजल्ट 14 जून को घोषित होना था, लेकिन 10 दिन पहले ही नतीजे जारी कर दिए गए.

Advertisement

नीट परीक्षा का रिजल्ट सवालों के घेरे में आ गया और छात्रों ने NEET रिजल्ट को रद्द करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट का रूख किया है. इस याचिका में SIT जांच की मांग और काउंसिलिंग रोकने की मांग की है. याचिका में कहा गया है कि NEET की परीक्षा दोबारा कराई जाए.

इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नीट परीक्षा को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा, ”नए कार्यकाल के लिए मोदी के शपथ लेने से पहले ही परीक्षा में कथित

अनियमितताओं के कारण 24 लाख से अधिक छात्रों को नुकसान पहुंचा है. राहुल गांधी ने देश के छात्रों को आश्वासन दिया कि वह संसद में उनकी आवाज बनेंगे और उनके भविष्य से जुड़े मुद्दों को जोरदार तरीके से उठाएंगे.

चार सदस्यीय समिति का गठन
इससे पहले शनिवार को नीट-यूजी में अंक बढ़ाए जाने के आरोपों के बीच राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने कहा कि शिक्षा मंत्रालय ने ग्रेस मार्क्स पाने वाले 1,500 से अधिक अभ्यर्थियों के परिणामों की समीक्षा के लिए चार सदस्यीय समिति गठित की है.

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button