देश

प्रशांत किशोर और कांग्रेस नेताओं के बीच हुई तीसरे दौर की बातचीत, चिंतन शिविर में होगी चर्चा….

नई दिल्ली – साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी में लगातार बैठकों का दौर जारी है. बुधवार को एक बार फिर पार्टी नेताओं की बैठक हुई. जिसमें प्रशांत किशोर ने भी हिस्सा लिया. यह पिछले एक सप्ताह में प्रशांत किशोर के साथ कांग्रेस नेताओं की तीसरी बैठक थी. आज की बैठक में प्रशांत किशोर के अलावा कांग्रेस नेता जयराम रमेश, मुकुल वासनिक, केसी वेणुगोपाल, अंबिका सोनी, दिग्विजय सिंह और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी हिस्सा लिया.
बैठक के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रशांत किशोर नरेंद्र मोदी, नीतीश कुमार, जगनमोहन रेड्डी, ममता बनर्जी और अमरिंदर सिंह के साथ काम कर चुके हैं. उनसे सेवा लेने में कोई हर्ज नहीं है. बताते चलें प्रशांत किशोर और कांग्रेस के बीच 10 महीनों के बाद एक बार फिर से बातचीत की शुरुआत हुई है. पहले दिन हुए बैठक में सोनिया गांधी, पी चिदंबरम, मुकुल वासनिक, अंबिका सोनी और ए के एंटनी ने हिस्सा लिया था.

Advertisement

हालांकि जानकारों का मानना है कि प्रशांत किशोर का सबसे ज़्यादा फोकस गुजरात और हिमाचल विधानसभा चुनावों पर है. इसके आगे की रणनीति चिंतन शिविर में तय होने की उम्मीद है.बताते चलें कि प्रशांत किशोर की कांग्रेस पार्टी में क्या भूमिका होगी इसे लेकर मंगलवार को कांग्रेस नेताओं ने कहा था कि इस पर अंतिम फैसला सोनिया गांधी ही लेंगी.

Advertisement

सूत्रों ने बताया था कि सोनिया गांधी ने सोमवार शाम को इस मसले पर पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं के साथ विचारविमर्श किया था और राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से चर्चा कर वे इस बारे में अंतिम निर्णय लेंगी. बताते चलें कि प्रियंका और पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं के साथ बातचीत के बाद सोनिया ने तीन दिन में दूसरी बार प्रशांत किशोर से बात की थी. राहुल गांधी इस बातचीत का हिस्‍सा नहीं थे.

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button