देश

पूरी तरह बदला Gmail यूज करने का अंदाज, गूगल ने दिए कमाल के AI फीचर..

Advertisement

गूगल ने 14 मई को हुए I/O इवेंट में कई बड़े ऐलान किए। इसमें एआई पर ज्यादा फोकस रहा। कंपनी ने इस इवेंट में Gemini AI को दिए गए अपग्रेड्स के बारे में बताया। गूगल ने कहा कि वर्कस्पेस के टास्क्स में यूजर्स को जेमिनी पावर्ड एआई ऑटोमेशन देखने को मिलेगा।

Advertisement

इसके लिए गूगल जल्द ही वर्कस्पेस के साइड पैनल में Gemini 1.5 Pro को उपलब्ध करा देगा। वर्कस्पेस में जेमिनी का काम होगा कि यह फाइल, ईमेल या दूसरे ऐप्स से डेटा को सर्च करने में लगने वाले समय की बचत करेगा। वर्कस्पेस का नया साइड पैनल सबसे पहले जीमेल, डॉक्स, शीट्स, स्लाइड्स और ड्राइव के लिए रोलआउट होगा।

Advertisement

खास है समराइज ईमेल वाला फीचर
जीमेल के मोबाइल ऐप में कंपनी समराइज ईमेल का ऑप्शन देने वाली है। यह ईमेल थ्रेड्स को पढ़ कर यूजर्स को जीमेल ऐप में लंबी थ्रेड्स का एक समराइज्ड व्यू देगा। समराइज्ड हाइलाइट्स के लिए जीमेल ऐप में ऊपर दिए गए ‘Summarize’ बटन को टैप करना होगा।

गूगल ने कहा कि यह फीचर वर्कस्पेस लैब्स यूजर्स को इस हफ्ते मिलना शुरू हो जाएगा। वहीं, जेमिनी फॉर वर्कस्पेस कस्टमर्स और गूगल वन एआई प्रीमियम सब्सक्राइबर्स को इसके लिए अगले महीने तक इंतजार करना होगा।

जीमेल में सवाल-जवाब का ऑप्शन
गूगल अपने जीमेल में ‘Gmail Q&A’ भी देने वाला है। इसमें यूजर जीमेल से अपनी भाषा में बात कर सकेंगे और सवाल पूछ सकेंगे। यह काफी हद तक डेस्कटॉप के साइड पैनल जैसा है।

खास रिक्वेस्ट के लिए यह यूजर्स को एक प्रॉम्प्ट बॉक्स देगा। यह फीचर ईमेल में आए सालों पुरानी पीडीएफ फाइल्स को भी आसानी से सर्च करने में मदद करेगा। कंपनी जीमेल Q&A को मोबाइल और वेब के वर्कस्पेस लैब्स यूजर्स के लिए जुलाई से रोलआउट करना शुरू करेगी।

कस्टमाइज्ड स्मार्ट रिप्लाइ की सुविधा
जीमेल के लिए यूजर्स को ‘Contextual Smart Reply’ का फीचर भी मिलेगा। यह फीचर मौजूदा एआई-पावर्ड स्मार्ट रिप्लाइ और स्मार्ट कंपोज टूल जैसा है। दरअसल, नया एआई-पावर्ड फीचर ईमेल के कॉन्टेक्स्ट को समझता है और यूजर को इसी का कस्टमाइज्ड रिप्लाइ देता है। यह फीचर भी वर्कस्पेस लैब्स के मोबाइल और वेब यूजर्स के लिए जुलाई की शुरुआत में रोलआउट होगा।

गूगल ने I/O इवेंट में बताया कि यूजर जल्द ही अपने जीमेल, गूगल मेसेज और दूसरे ऐप में एआई जेनरेटेड इमेज को ड्रैग और ड्रॉप कर सकेंगे। साथ ही कंपनी यूट्यूब यूजर्स के लिए यूट्यूब वीडियो में किसी खास इन्फॉर्मेशन को सर्च करने के लिए ‘Ask this video’ का ऑप्शन भी देने वाली है। बताते चलें कि जेमिनी 1.5 प्रो को अब ग्लोबल लेवल पर डेवलपर्स के लिए अवेलेबल कर दिया गया है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button