देश

सम्राट पृथ्वीराज फिल्म के, इस किरदार में सुर्खियां बटोर रहे हैं… गरीबों के मसीहा सोनू सूद

(शशि कोन्हेर) : बॉलीवुड में खिलाड़ी के नाम से मशहूर अक्षय कुमार की फिल्म  ‘पृथ्वीराज’ आज रिलीज हो गई है। फिल्म में अक्षय कुमार के साथ मानुषी छिल्लर अपना डेब्यू कर रही हैं। इसके साथ ही संजय दत्त और सोनू सूद  भी अहम किरदार निभा रहे हैं।

Advertisement

फिल्म में पृथ्वीराज चौहान के रोल के अलावा चंदबरदाई का किरदार भी सुर्खियों में बना हुआ है। जिसे अभिनेता सोनू सूद निभा रहे हैं। चंदबरदाई, पृथ्वीराज के करीबी दोस्त और राजकवि थे. चंदबरदाई इतिहास के कुछ ऐसे लोगों में से एक हैं जिनके बारे में लोग शायद ही अधिक जानते हों।

Advertisement

मौहम्मद गौरी को मारने में निभाई भी अहम भूमिका

Advertisement


चंदबरदाई का जन्म 1148 में लाहौर में हुआ। उनका मूल ना नाम पृथ्वी चंद भट्ट था। कुछ समय बाद वह लाहौर छोड़ कर दिल्ली आ गए और राजा पृथ्वीराज चौहान के राजकवि और सहयोगी के रूप में कार्य करने लगे।

चंदबरदाई ने अपना अधिकतम जीवन पृथ्वीराज को ही समर्पित कर दिया।  मौहम्मद गौरी को मारने के लिए लोग पूरा श्रेय अक्सर पृथ्वीराज को ही देते हैं हालांकि चंदबरदाई ने भी गौरी को मौत के घाट उतारने में अहम भूमिका निभाई थी।

जब पृथ्वीराज चौहान अंधे हो गए और गौरी ने उन्हें कारागृह में डाल दिया तो चंदबरदाई के कारण ही वह गौरी को मारने में कामयाब रहे। आज भी अधिकतर लोग नहीं जानते कि चंदबरदाई को हिंदी का पहला कवि भी माना जाता है। अपने इसी गुण के कारण वह पृथ्वीराज को गौरी के बारे में बड़ी चतुराई से विवरण दे सके।

उन्होंने कुछ इस प्रकार पृथ्वीराज को गौरी के बारे में बताया. ‘चार बांस चौबीस गज, अंगुल अष्ट प्रमान। ता ऊपर सुल्तान है, मत चूके चौहान॥’ जिसके बाद ही पृथ्वीराज,  मौहम्मद गौरी को मारने में कामयाब रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button