• DCT Portal Header
  • Dr CV Raman Portal Header Ad
  • lokswarad_1
  • javascript slider
  • lokswarad_4
देश

मस्जिद में स्थित मौलाना जमील इलियासी की मजार पर RSS प्रमुख ने चढ़ाए फूल…..

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : नई दिल्ली – आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत आज दिल्ली में मुस्लिम बुद्धिजिवियों और इमामों से मिलने कस्तूरबा गांधी मार्ग स्थित मस्जिद में महरहूम मौलाना जमील इल्यासी की मज़ार पर पहुंचे.भागवत ने मौलाना जमील इलियासी की मजार पर फूल चढ़ाए वे आज डॉ जमील इलियासी की बरसी पर यहां पहुंचे थे.डॉ जमील इलियासी के बेटे शोएब इलियासी के अनुसार मोहन भागवत का आना मुल्क के लिए बड़ा संदेश हैं. हमारे लिए ये खुशी का मौका है.

Advertisement

मोहब्बतों का पैगाम है. इसे इतना ही देखा जाना चाहिए. इसमें नहीं पड़ना चाहिए कि मोहन भागवत मस्जिद क्यों गए आदि. मुल्क के लिए ये सुखद परिस्थिति है. इससे मोहब्बत का एक पैगाम जाता है. शोएब ने ये भी कहा कि मोहन भागवत ऐसे नहीं हैं, जैसी कि उनकी छवि पेश की जाती है. उन्होंने श्रीमदभागवत गीता पर लिखी मेरी किताब को देखा और सराहा. वे एक पारिवारिक कार्यक्रम के तहत यहां आए थे.

Advertisement

बता दें कि आरएसएस ने हाल ही मुसलमानों से संपर्क बढ़ाया है और भागवत ने समुदाय के नेताओं के साथ कई बैठकें की हैं. पिछले साल भी उन्होंने मुंबई के एक होटल में मुस्लिम बुद्धिजीवियों के एक समूह के साथ मुलाकात की थी. सितंबर 2019 में भागवत ने दिल्ली में आरएसएस कार्यालय में जमीयत उलेमा-ए-हिंद के प्रमुख मौलाना सैयद अरशद मदनी से भी मुलाकात की थी.

Advertisement

गौरतलब है कि मुस्लिम समुदाय के कुछ बुद्धिजीवियों ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत से पिछले महीने मुलाकात की थी. इस दौरान हिंदू-मुस्लिम के बीच सौहार्द के लिए काम करने पर सहमति बनी है. RSS ने हाल के दिनों में मुसलमानों से संपर्क बढ़ाया है.

इन मुस्लिम बुद्धिजीवियों में पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी और दिल्ली के पूर्व उपराज्यपाल नजीब जंग भी शामिल थे. कुरैशी ने बताया कि 22 अगस्त को मुस्लिम बुद्धिजीवियों से संघ प्रमुख भागवत मिले थे. इस दौरान पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ़ नुपुर शर्मा के बयान पर चर्चा हुई थी. इसके अलावा बनारस की ज्ञानवापी मस्जिद के विषय में भी बातचीत हुई.

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button