• lokswarad_3
  • lokswarad_5
  • lokswarad_2
  • bootstrap carousel example
  • lokswarad_4
jquery slideshow by WOWSlider.com v9.0
राजनांदगांव

चिटफंड कंपनी अनमोल इंडिया के 4 डायरेक्टरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार…..

(उदय मिश्रा) : राजनांदगांव – छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सख्त निर्देश व पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक डी. श्रवण एवम अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (नोडल अधिकारी)प्रज्ञा मेश्राम के मार्गदर्शन में चिटफंड कंपनी अनमोल इंडिया एग्रो हर्बल फार्मिंग डेरी एंड केयर कंपनी के चार डायरेक्टरों को पुलिस ने हैदराबाद और नारायणपुर से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इन डायरेक्टरों के खिलाफ छत्तीसगढ़ में 21 मामले सहित राजनंदगांव में 9 एफआईआर दर्ज है।राज्य शासन के निर्देश पर चिटफंड कंपनियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई में जुटी राजनांदगांव पुलिस को अनमोल इंडिया एग्रो हर्बल फार्मिंग डेरी केयर एंड कंपनी लिमिटेड के चार डायरेक्टरों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल हुई है। पुलिस की गिरफ्त में आए इन चार आरोपियों में तीन महिला और एक पुरुष शामिल है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुलिस अधीक्षक डी श्रवण ने कहा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश में इन आरोपियों के खिलाफ 21 एफआईआर दर्ज हैं, वहीं राजनांदगांव में ही कुल 9 अपराध पंजीबद्ध हैं, जिसके चलते आरोपियों की गिरफ्तारी की गई है।



उल्लेखनीय है कि चिटफंड में लगे रुपये में से लगभग 10 लाख रुपये लोगों को जिले में वापस किये जा चुके हैं। अनमोल इंडिया एग्रो हर्बल फार्मिंग डेरी केयर कंपनी के इन डायरेक्टरों के खिलाफ सरगुजा,कांकेर, रायगढ़, बिलासपुर और राजनांदगांव के साथ ही महाराष्ट्र, राजस्थान और गुजरात में भी कई मामले दर्ज हैं। राजनांदगांव जिले में ही लोगों से धोखाधड़ी करते हुए इस ग्रुप ने 5 हजार 9 सौ 34 निवेशकों से लगभग 15 करोड़ 34 लाख रुपए की ठगी की है। पुलिस ने हैदराबाद और नारायणपुर से जावेद मेमन, रोजिना बानो, नादिया बानो और निलोफर बानो को गिरफ्तार किया है। वहीं वर्ष 2016 में कंपनी के दो अन्य डायरेक्टर खालिद मेमन और जुनैद मेमन की गिरफ्तारी की जा चुकी है। इस कम्पनी के एक अन्य डायरेक्टर उमर मेमन की मौत हो गई है, वहीं दो अन्य डायरेक्टर फातमा बानो और हमीद मेमन अग्रिम जमानत पर हैं। इस तरह से पुलिस ने लगभग 9 डायरेक्टरों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई की है। पुलिस के गिरफ्त में आए इन 4 डायरेक्टरों के पैन कार्ड विवरण और बैंक खातों में जमा राशि लगभग 3 करोड 26 लाख रुपए फ्रीज करने की तैयारी है। पुलिस द्वारा फॉरेंसिक ऑडिट के जरिए मनी ट्रेल की भी जांच की जा रही है।

बाईट – डी श्रवण, पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button