छत्तीसगढ़

अब नार्को टेस्ट के मामले में आत्मनिर्भर हुआ छत्तीसगढ़, रायपुर एम्स को मिली मंजूरी, पहले ही आ चुकी है मशीनें..!

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : रायपुर 16 मार्च। प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने बुधवार को विधानसभा में जानकारी दी कि अब बड़े अपराधों में इस्तेमाल किए जाने वाले नारको टेस्ट के लिए देश के बड़े राज्यों में नंबर नहीं लगाना पड़ेगा। नारको टेस्ट के लिए छत्तीसगढ़ अब आत्म निर्भर बन गया है। राज्य सरकार ने नारको टेस्ट के लिए जरूरी औपचारिकताएं पूरी कर ली है और रायपुर एम्स के साथ मिलकर इसके लिए जरूरी मशीनें भी मंगा ली गयी हैं।

Advertisement

प्रदेश के गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने विधानसभा में अनुदान मांगों पर चर्चा करते हुए जानकारी दी है कि छत्तीसगढ़ पुलिस अपराधियों पर लगाम कसने के लिए लगातार नयी तकनीकों का इस्तेमाल कर रही है।

Advertisement

बढ़ते हुए साइबर अपराधों पर नकेल कसने के लिए सभी पांच रेंज मुख्यालयों में साइबर थानों की स्थापना की जा रही है। अपराधों पर लगाम लगे इसके लिए दुर्ग में फारेंसिंक साइंस लेबोरेट्री कालेज की स्थापना भी की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button