[fvplayer id="1" autoplay=true]
देश

“मैंने जो कहा उसपर शर्मिंदा नहीं”: पिता द्वारा यौन उत्पीड़न के बयान पर बोलीं खुशबू सुंदर

Advertisement

(शशि कोनहेर) : भारतीय जनता पार्टी  की नेता और राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य खुशबू सुंदर ने कहा कि उनके पिता ने उनका यौन शोषण किया था और मैंने जो कहा है उसपर शर्मिंदा नहीं हूं. खुशबू सुंदर  ने कहा कि “मैंने चौंकाने वाला बयान नहीं दिया है. मुझे लगता है कि मैं एक ईमानदारी के साथ बाहर आई हूं. मैंने जो कहा है, उसके लिए मुझे शर्म नहीं है क्योंकि यह मेरे साथ हुआ है और मुझे लगता है कि अपराधी को उसके लिए शर्मिंदा होना चाहिए.”

Advertisement

भाजपा नेता ने कहा कि अपने खुलासे से वह चाहती हैं कि महिलाएं इस बारे में बात करें कि उनके साथ क्या हुआ है. उन्होंने आगे कहा कि मुझे लगता है कि मुझे यह संदेश देने की जरूरत है कि आपको मजबूत होना है और खुद पर नियंत्रण रखना है. आपको कुछ भी नीचे न आने दें. मुझे लगता है कि महिलाओं को इसके बारे में बोलने की जरूरत है और उन्हें बताना चाहिए कि मेरे साथ ऐसा हुआ है और मैं अपनी यात्रा जारी रखूंगी, चाहे कुछ भी हो जाए.”

Advertisement

खुशबू ने हाल में जयपुर में ‘मोजो स्टोरी’ द्वारा आयोजित कार्यक्रम ‘वी द वुमन’ में कहा कि जब वह 15 साल की थीं, तब उन्होंने अपने पिता के खिलाफ बगावत करना शुरू कर दिया. इसके बाद, उनके पिता ने परिवार को बेसहारा छोड़ दिया. उन्होंने कहा था, ‘‘जो सबसे मुश्किल चीज मुझे लंबे समय तक परेशान करती रही, जिसे भूल नहीं सकती, माफ नहीं करूंगी, लेकिन उसे पीछे छोड़ कर आगे बढ़ूंगी, वह मेरे बचपन में मेरे पिता द्वारा किया गया यौन उत्पीड़न है. जब एक बच्ची/बच्चे का यौन उत्पीड़न किया जाता है, तब यह उसे जीवन भर कचोटता है.”

उन्होंने कहा कि उन्हें गर्व है कि वह अपने पिता के खिलाफ खड़ी हुईं क्योंकि ‘‘यदि वह परिवार में रहते तो मैं इतने आगे तक नहीं पहुंच पाती.” अभिनेत्री ने कहा, ‘‘मैं यदि घर में पुरूष से लड़ सकती थी, तो मैं दुनिया का मुकाबला भी बहुत आसानी से कर सकती हूं.”

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button