देश

जमानत पर फैसले से पहले बढ़ी मनीष सिसोदिया की न्यायिक हिरासत…..

Advertisement

शराब घोटाले में गिरफ्तार किए गए आम आदमी पार्टी के दूसरे सबसे बड़े नेता मनीष सिसोदिया को गुरुवार को राउज ऐवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया। शराब घोटाले की सुनवाई के लिए सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (सीबीआई) ने उन्हें अदालत में पेश किया। कोर्ट ने सीबीआई को कुछ निर्देश देने के बाद मामले की सुनवाई 22 नवंबर तक टाल दी है। सिसोदिया की न्यायिक हिरासत भी तब तक के लिए बढ़ा दी गई है। सिसोदिया की न्यायिक हिरासत ऐसे समय पर बढ़ाई गई है जब सुप्रीम कोर्ट में उनकी जमानत याचिका लंबित है। सर्वोच्च अदालत ने सुनवाई पूरी करने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया है।

Advertisement

दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री सिसोदिया को विशेष न्यायाधीश एम के नागपाल की अदालत में पेश किया गया। कोर्ट को बताया गया कि मनीष सिसोदिया की जमानत अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा हुआ है। कोर्ट ने सीबीआई को मामले में आरोपियों को तीनों चार्जशीट से जुड़े दस्तावेजों की प्रति देने का निर्देश दिया। इसके अलावा आरोपियों को सीबीआई मुख्यालय के मालखाने में रखे हुए दस्तावेजों की जांच के लिए जांच अधिकारी को अर्जी देने को कहा। कोर्ट ने सीबीआइ से यह भी कहा कि आरोपियों के अधिवक्ता को रोज दोपहर दो से शाम सात बजे बजे तक का समय दस्तावेजों की जांच के लिए दिया जाए।

Advertisement

संक्षिप्त सुनवाई के बाद कोर्ट ने सीबीआई केस की सुनवाई 22 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दी है। कोर्ट में पेशी के लिए लाए गए सिसोदिया मुस्कुराते हुए अपने वकीलों से बात करते दिखे। सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई के अलावा ईडी भी जांच कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button