play-sharp-fill
देश

संयुक्त राष्ट्र में बजा भारत का डंका, कई अहम निकायों का मिला जिम्मा…..INCB में फिर जीत

Advertisement

Advertisement

Advertisement

अंतरराष्ट्रीय स्वापक नियंत्रण बोर्ड (INCB) समेत संयुक्त राष्ट्र के कई प्रमुख निकायों के लिए भारत का चयन किया गया है। भारत की जगजीत पवाडिया ने अंतरराष्ट्रीय स्वापक नियंत्रण बोर्ड में तीसरी बार निर्वाचित होकर एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। उन्हें संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक परिषद (ECOSOC) द्वारा आयोजित अत्यधिक प्रतिस्पर्धी चुनाव में सबसे अधिक वोट प्राप्त हुए हैं।

पावडिया को गुप्त मतदान के जरिए मार्च 2025 से 2030 तक पांच साल के तीसरे कार्यकाल के लिए INCB में फिर से चुना गया। भारत को 2025 से 2029 तक की अवधि के लिए ‘कमीशन ऑन स्टेटस ऑफ विमेन’ (महिलाओं की स्थिति पर आयोग) के लिए भी चुना गया। 2025-2027 की अवधि के लिए संयुक्त राष्ट्र बाल कोष के कार्यकारी बोर्ड, 2025-2027 के लिए परियोजना सेवाओं के लिए संयुक्त राष्ट्र कार्यालय और संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम एवं संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष के कार्यकारी बोर्ड में भी भारत को चुना गया है।

इसके अलावा भारत को 2025 से 2027 तक के कार्यकाल के लिए लैंगिक समानता एवं महिला सशक्तीकरण के लिए संयुक्त राष्ट्र इकाई के कार्यकारी बोर्ड और 2025-2027 कार्यकाल के लिए विश्व खाद्य कार्यक्रम के कार्यकारी बोर्ड के लिए भी चुना गया।

संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि राजदूत रुचिरा कंबोज ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर लिखा, ‘भारत ‘वसुधैव कुटुंबकम’ – दुनिया एक परिवार है’ के सिद्धांत को कायम रखते हुए इन संयुक्त राष्ट्र निकायों के भीतर विमर्श में सक्रिय रूप से शामिल होने की अपनी प्रतिबद्धता पर कायम है।’ उन्होंने कहा कि मार्गदर्शन करने वाला यह दर्शन ‘वैश्विक विचार-विमर्श में रचनात्मक और सहयोगात्मक योगदान देने, एकता की भावना को बढ़ावा देने और सभी की भलाई के लिए साझा जिम्मेदारी के प्रति हमारे समर्पण को रेखांकित करता है।’

संयुक्त राष्ट्र आर्थिक एवं सामाजिक परिषद (ECOSOC) ने अपने 17 सहायक निकायों में रिक्तियों को भरने के लिए मंगलवार को चुनाव कराए। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन ने ‘एक्स’ पर कहा, ‘संयुक्त राष्ट्र में भारत ने महत्वपूर्ण जीत हासिल की। भारत ने 2025-2030 के लिए अंतरराष्ट्रीय स्वापक नियंत्रण बोर्ड का प्रतिष्ठित चुनाव पुन: जीता और कई प्रमुख संयुक्त राष्ट्र निकायों में सीट हासिल कीं।’

भारतीय मिशन ने कहा, ‘भारत हमेशा की तरह ‘वसुधैव कुटुंबकम’ के हमारे समग्र दर्शन को ध्यान में रखते हुए इन निकायों में विचार-विमर्श में सक्रिय रूप से योगदान देना जारी रखेगा।’ विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘आज (मंगलवार), भारत की उम्मीदवार जगजीत पवाडिया को न्यूयॉर्क में हुए चुनावों में 2025 से 2030 की अवधि के लिए अंतरराष्ट्रीय स्वापक नियंत्रण बोर्ड के लिए फिर से चुना गया।’

Advertisement

उन्होंने कहा कि भारत ने बोर्ड के सभी निर्वाचित सदस्य देशों के बीच सबसे अधिक वोट हासिल किए। विदेश मंत्री ने संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन और विदेश मंत्रालय की टीम की सराहना की और कहा कि उन्होंने अच्छा काम किया।

भारत को ECOSOC के मतदान करने वाले 53 सदस्यों में से 41 के वोट मिले, जो सभी विजेता सदस्य देशों में सबसे अधिक हैं। पावडिया ने 41 वोट के साथ कठिन चुनाव में शानदार जीत हासिल की, जबकि दूसरे स्थान पर रहे उम्मीदवार को 30 वोट मिले। बोर्ड की पांच सीट के लिए 24 उम्मीदवार थे, जिस कारण चुनाव अत्यधिक प्रतिस्पर्धी था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button