देश

हिंदू बन गई हूं… पाकिस्तान भेजा तो मुझे मार देंगे’, मुल्क भेजने के नाम पर…….

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : PUBG गेम के जरिए प्यार दोस्ती, फिर प्यार होने के बाद पाकिस्तान से अवैध रूप से ग्रेटर नोएडा आई सीमा हैदर और सचिन को कोर्ट ने जमानत दे दी है. सीमा अपने साथ चार बच्चों को भी लेकर आई है. सीमा और सचिन को जेल से रिहा कर दिया गया है.

Advertisement

शुक्रवार को कोर्ट ने पाकिस्तान की रहने वाली सीमा हैदर और नोएडा के सचिन को रिहाई के आदेश दे दिए. इसके बाद सीमा और सचिन को जेल से रिहा कर दिया गया. सीमा अपने चार बच्चों को लेकर सचिन के पास पाकिस्तान से आई है.

Advertisement

जेल से रिहा होने के बाद सीमा सचिन के घर वापस पहुंच गई. इस दौरान आजतक की टीम ने दोनों से बातचीत की. सीमा ने कहा कि वो सचिन से बहुत प्यार करती है और अपने बच्चों के साथ भारत में ही रहना चाहती है.

सीमा ने कहा कि उसने सचिन के लिए हिंदू धर्म अपना लिया है. वो सचिन से कोर्ट मैरिज करेगी. वहीं सीमा के पहले पति ने मोदी सरकार से पत्नी और बच्चों को वापस पाकिस्तान भेजने की अपील की है, इस पर सीमा ने कहा कि वो साल 2019 और 2020 के बाद से हैदर के संपर्क में नहीं है, वो बस बहाने मार रहा है. अगर वो वापस पाकिस्तान गई तो उसे जान से मार दिया जाएगा. अगर बच्चों को जाना है तो जा सकते हैं, लेकिन बच्चे भी मुझे छोड़कर नहीं जाएंगे.

सचिन ने कहा- सीमा को मैं यहीं साथ रखना चाहता हूं

दूसरी ओर सचिन ने कहा कि PubG के जरिये मुझे सीमा से प्यार हुआ था. हम नेपाल में मिले थे, फिर एक साथ रहने की कसमें खाई थीं. हमने नेपाल में शादी भी कर ली थी. सीमा ने हिंदू धर्म अपना लिया है. मैं सीमा को यहीं अपने साथ रखना चाहता हूं.

पाकिस्तान के सिंध प्रांत की रहने वाली है सीमा हैदर?

नोएडा पुलिस के अनुसार, सीमा हैदर पाकिस्तान के सिंध प्रांत के जैस्माबाद की निवासी है. दस्तावेजों के अनुसार, सीमा की शादी गुलाम रजा के साथ साल 2014 में हुई थी. गुलाम हैदर कराची में अपनी फैमिली के साथ रहता था. वहां वह टाइल्स लगाने का काम करता था. साल 2019 में गुलाम हैदर काम की तलाश में सउदी अरब चला गया. गुलाम से शादी के बाद तीन बेटियां और एक बेटा हुआ. सबसे बड़ी बेटी 7 साल की है.

Advertisement

पहली बार नेपाल में मिले थे दोनों

सीमा हैदर और नोएडा का सचिन पबजी गेम खेलते हुए एक-दूसरे से संपर्क में आए. सीमा ने सचिन से मिलने की कई बार कोशिश की. वह मार्च 2023 में कराची से निकली और नेपाल के पास शाहजहां पहुंची. वहां से काठमांडू गई. इधर सचिन भी ग्रेटर नोएडा से काठमांडू बस से रवाना हुआ. वहां जाकर दोनों मिले और 7 दिन तक एक होटल में रुके. इसके बाद सीमा वापस पाकिस्तान चली गई और सचिन भी लौट आया.

भारत तक ऐसे पहुंची सीमा, पैसों के लिए बेच दी थी जमीन

नेपाल से वापस पाकिस्तान लौटने के बाद सीमा ने करांची में एक ट्रैवल एजेंट से संपर्क किया. उसने पूछा कि वह किस तरह अपने चार बच्चों के साथ हिंदुस्तान जा सकती है. उसे पता चला कि नेपाल के रास्ते वह आसानी से दाखिल हो सकती है. इसके बाद सीमा नेपाल के रास्ते दिल्ली पहुंची थी.

नेपाल तक पहुंचने के लिए सीमा को अपने बच्चों के पासपोर्ट की जरूरत थी. इसलिए पैसे जुटाने के लिए उसने अपनी जमीन बेच दी और पासपोर्ट बनवाया. इसके बाद वह बच्चों को लेकर पाकिस्तान से काठमांडू पहुंची और वहां से दिल्ली आई. 13 मई को सीमा गौतमबुद्ध नगर के रबूपुरा इलाके में सचिन के यहां पहुंची थी.

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button