गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही

खेत जुताई के दौरान मिले सैकड़ों साल पुराने मूर्तियो के अवशेष…..

(उज्ज्वल तिवारी) : पेंड्रा। जिले में एक ओर जहां पौराणिक स्थल का भंडार है तो वही दूसरी ओर जिले में खेती करने एवं अन्य किसी ना किसी माध्यमो से हजारों साल पुरानी मूर्तियां के अवशेष मिलते हैं।

Advertisement


इसी तरह से जिले के पौराणिक मानता के नाम से जानी जाने वाली धनपुर के सुरंगटोला में मूर्तियों के अवशेष मिले हैं। दरअसल यह मूर्तियां किसान छोटे लाल के खेत में मिली है। जहां किसान छोटे लाल के द्वारा जेसीबी मशीन लगाकर खेत बनवा रहा था तभी इस दौरान खेत में सैकड़ो साल पुरानी मूर्तियों एवं मंदिरो के अवशेष निकले हुए थे। वही गांव के ही जानकारो के द्वारा बताते हुए कहा कि इस तरह की मूर्तियों के अवशेष लगातार खुदाई या फिर अन्य कहीं अलग-अलग जगह जैसे नदी, तालाब, खेत पर अवशेष मिलते हैं। वहीं गांव के लोगो ने बताया कि पहले भी इसी तरह के अवशेष मिले थे।

Advertisement

वहीं यह अवशेष लगभग हजारों साल पुरानी हो सकती है। वही गांव के लोगों ने बताया कि जब भी कभी मूर्तियां निकलती है तो उसे प्रशासन के द्वारा ले जाया जाता है लेकिन उन मूर्तियों के अवशेष को सहजने एवं संवारने में कहीं ना कहीं प्रशासन कोताही सामने दिखाई देती है। साथ ही समय के साथ जरूरत है कि इन्हें सहज के रखा जाए। ताकि यह प्राचीन कालीन मूर्तियां पर्यटकों के देखने के लिए एक मिसाल बन सके।

Advertisement

वहीं गांव के लोगो के साथ ही आसपास के गांव के लोग इन निकले हुए मूर्ति के अवशेषों को देखने के लिए बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। अब यह देखना होगा कि प्रशासन इन मिले हुए अवशेषों को किस हद तक सवारने एवं सहेजने का काम करता है।

Related Articles

Back to top button