देश

कांग्रेस को मार, थरूर को प्यार! जब पीएम बोले ‘थैंक्यू शशि जी’, BJP में शोर- बंटवारा हो गया

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कांग्रेस की पुरानी सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने UPA शासन को घोटालों का दशक बताया और कहा कि कांग्रेस ने हर अवसर को आपदा में बदला। खास बात है कि एक ओर जहां पीएम मोदी लगातार कांग्रेस पर हमला बोल रहे थे। वहीं, तिरुवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर को किया उनका ‘धन्यवाद’ भी चर्चा का विषय बन गया।

Advertisement

खबर है कि पीएम की स्पीच के दौरान कांग्रेस के कई सांसदों ने वॉकआउट किया। इसके बाद जब विपक्षी दलों के सांसदों ने सदन में वापसी की, तो लौटने वालों में सबसे पहले थरूर थे। इसके चलते पीएम ने बीच भाषण में ही कह दिया ‘थैंक्यू शशि जी।’ अब पीएम ने धन्यवाद किया ही था कि पीछे से भाजपा सांसदों का शोर शुरू हो गया, जहां वे कह रहे थे, ‘कांग्रेस का बंटवारा हो गया।’

Advertisement

थरूर ने भी की तारीफ
कांग्रेस सांसद थरूर ने भी पीएम के भाषण की तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘पीएम ने अच्छा भाषण दिया, लेकिन उन्होंने विपक्ष की तरफ से पूछे गए किसी सवाल का जवाब नहीं दिया।’ उन्होंने कहा, ‘इसके अलावा UPA शासन के दौरान आतंकवादी हमलों को लेकर कांग्रेस पर पीएम मोदी का हमला करना ठीक नहीं है। वे कांग्रेस नहीं भारत पर हमले थे। हम पुलवामा, उरी, पठानकोट, सगरोटा का राजनीतिकरण नहीं किया। नरेंद्र मोदी जी देश के लिए बोलिए।’

खास बात है कि थरूर का केरल दौरा चर्चा में रहा था। कहा जा रहा था कि थरूर राज्य की राजनीति में सक्रियता बढ़ा रहे थे। खबरें थी कि इससे कांग्रेस के कई बड़े नेताओं में खलबली मच गई थी। साथ ही उनके कार्यक्रम भी कैंसल कर दिए गए थे।

कविताओं से घेरा
प्रधानमंत्री ने कहा कि UPA सरकार के 2004 से 2014 तक का काल आजादी के इतिहास में सबसे अधिक घोटालों का दशक रहा है और संप्रग सरकार के इन दस साल के कार्यकाल में कश्मीर से कन्याकुमारी तक हर कोने में भारत के लोग असुरक्षित महसूस करते थे।

पीएम ने हिन्दी के लोकप्रिय हास्य कवि काका हाथरसी और कवि दुष्यंत कुमार की कविताओं की कुछ पंक्तियों के जरिये लोकसभा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित विपक्ष पर निशाना साधा।

उन्होंने राहुल गांधी के कल सदन में दिए भाषण के परोक्ष संदर्भ में कहा कि कुछ लोगों के भाषण के बाद पूरा इकोसिस्टम, समर्थक…उछल रहे थे और खुश होकर कहने लगे, ये हुई न बात! मोदी ने कहा कि ऐसे लोगों के लिए बहुत अच्छे ढंग से कहा गया है… ‘ये कह-कहकर हम दिल को बहला रहे हैं, वो अब चल चुके हैं, वो अब आ रहे हैं।’

विपक्ष के आरोपों पर प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ लोगों को बिना सिर-पैर की बातें करने के आदी होने के कारण यह भी याद नहीं रहता कि पहले क्या कहा था। उन्होंने कहा, ‘इन जैसों के लिए कवि दुष्यंत कुमार ने बहुत अच्छी बात कही है- तुम्हारे पांव के नीचे कोई जमीन नहीं, कमाल यह है कि फिर भी तुम्हें यकीन नहीं…।’

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button