play-sharp-fill
छत्तीसगढ़बिलासपुर

हजरत सैयद मूसा शहीद रहमतुल्लाह अलैह का उर्स पाक 17 जून को…

Advertisement

(इरशाद अली संपादक लोकस्वर टीवी) : बिलासपुर। हजरत सैय्यद मूसा शहीद रहमतुल्लाह अलैहे का 93 वां सालाना उर्स पाक 17 जून शनिवार को पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। इसके लिए दरगाह परिसर में तैयारियां अंतिम चरण में हैं।जूना शहर रतनपुर के इस सालाना उर्स के मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में अटल श्रीवास्तव अध्यक्ष,छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल को आमंत्रित किया गया है।

Advertisement

अध्यक्षता मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा करेंगे।विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष प्रमोद नायक,जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण सिंह चौहान,नगर निगम के सभापति शेख नजीरूद्दीन,जिला कांग्रेस कमेटी ग्रामीण के उपाध्यक्ष नीरज जायसवाल, मंडी कोटा के अध्यक्ष संदीप शुक्ला,नगर पालिका परिषद रतनपुर के अध्यक्ष घनश्याम रात्रे, नगर पालिका रतनपुर के उपाध्यक्ष कन्हैया यादव,एल्डरमैन सुभाष अग्रवाल, आशीष शर्मा विशेष रूप से मौजूद रहेंगे।

Advertisement

दरगाह इंतजामिया कमेटी के नए अध्यक्ष लूतरा शरीफ दरगाह इंतजामिया कमेटी के पूर्व चेयरमैन हाजी अखलाक खान बनाए गए है। वही कार्यकारिणी अध्यक्ष के रूप में जिला कांग्रेस कमेटी बिलासपुर के महामंत्री शेख निजामुद्दीन उर्फ दुलारे भाई रहेंगे।

कमेटी के उपाध्यक्ष खुर्शीद अहमद अशरफी,अशरफ बेग, खजांची मोहम्मद अलीम खान और सेक्रेटरी शेख अहमद रजा है। लंगर इंचार्ज की जिम्मेदारी सैयद याकूब आगा दरगाह कमेटी सरकंडा बिलासपुर को सौंपी गई है। मुस्लिम जमात रतनपुर कार्यक्रम को भव्य रुप से करने की तैयारी कर चुका है।

गुरुवार को दरगाह इंतजामिया कमेटी के नए अध्यक्ष हाजी अखलाक खान अशरफी ने अपनी टीम के साथ दरगाह परिसर में जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लेकर कमेटी के तमाम पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।उर्स को जायरीनों के अनुरूप बनाने स्थानीय कमेटी और तमाम श्रद्धालुओं से उन्होंने सहयोग मांगा। अखलाक खान ने बताया कि 16 जून की शाम 4:00 बजे संदल चादर निकालकर उर्स का आगाज किया जाएगा।

शाम से दूसरे दिन 17 जून की पूरी रात तक जहां जायरीन की भीड़ रहेगी। इस दौरान महफिले समा के साथ ही आम लंगर का 24 घंटे इंतजाम रहेगा। दरगाह कमेटी के कोषाध्यक्ष अब्दुल अलीम खान ने बताया जूना शहर रतनपुर का ये 93 वां उर्स मुबारक पहले से ज्यादा उत्साह के साथ मनाया जाएगा। 17 जून की रात 9:00 बजे के बाद दिल्ली से आने वाले कव्वाल गुलाम वारिस का कार्यक्रम होगा।उन्होंने कमेटी के सभी पदाधिकारियों से अपनी अपनी जिम्मेदारियों को बेहतर ढंग से निभाने आग्रह किया है।जायरीनों को किसी तरह की कोई परेशानी ना हो इस बात का भी ख्याल रखने की बात कही गई है।मालूम हो कि यह उर्स पाक बीते दिनों रतनपुर में विवाद होने के कारण कुछ समय के बाद आगे बढ़ा दिया गया था। एक बार फिर से उर्स को लेकर लोगों में उत्साह है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button