बिलासपुर

पुराने कंपोजिट बिल्डिंग, जिला न्यायालय से कलेक्ट्रेट को जोड़ेगा फुट ओवर ब्रिज, 78.24 लाख रुपए की लागत से बनेगा….आम जनता को मिलेगी राहत दुर्घटना की संभावना होगी कम : शैलेष पांडेय

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर। शहर विधायक शैलेश पांडे ने बताया कि आम जनता की सुविधा और भीड़भाड़ तथा दुर्घटना से बचने के लिए कलेक्टरेट बिल्डिंग और पुराने कम अपोजिट बिल्डिंग के बीच में फुटओवर ब्रिज बनाया जाएगा। बताया कि आज कलेक्ट्रेट के मंथन सभागार में कलेक्टर श्री सौरभ कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में उक्त आशय का निर्णय लिया गया। श्री पांडे ने बताया कि कलेक्टर की अध्यक्षता में मनसन सभागृह में हुई जिला खनिज संस्थान न्यास बिलासपुर की शासी परिषद की इस बैठक में सांसद अरुण साव, बिलासपुर नगर विधायक शैलेष पांडेय, संसदीय सचिव रश्मि आशीष सिंह, बिल्हा विधायक धरमलाल कौशिक, मस्तूरी विधायक कृष्णमूर्ति बांधी, कोटा विधायक रेणु जोगी, बेलतरा विधायक रजनीश कुमार सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण सिंह चौहान, आयुक्त नगर निगम कुणाल दुदावत शामिल हुए। बैठक में पुराने कंपोजिट बिल्डिंग एवं जिला न्यायालय से कलेक्ट्रेट परिसर को जोड़ने के लिए फुट ओवर ब्रिज निर्माण के लिए 78.24 लाख की राशि का अनुमोदन किया गया।

Advertisement

नगर विधायक शैलेष पांडेय ने कहा कि दफ्तरों के लिहाज से यह सबसे संवेदनशील स्थान है। कलेक्टोरेट, जिला न्यायालय, जिला पंचायत, रजिस्ट्री आफिस, पुलिस, नगर निगम सहित 50 से अधिक सरकारी विभागों वाली नई और पुरानी कंपोजिट बिल्डिंग कलेक्टोरेट रोड के आमने-सामने है। कई विभाग एक दूसरे से जुड़े हैं और आवश्यक कार्यों से आने वालों को दिन में कई कई बार रोड क्रास करना मजबूरी होती है।

Advertisement

कलेक्टोरेट, पुरानी और नई कंपोजिट बिल्डिंग और कोर्ट तक आने- जाने के लिए हर दिन हजारों लोगों को सड़क पार करना होता है। जिससे दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। ऐसे में यहां फुट ओवरब्रिज बनने से समस्या दूर की जा रही है, जिससे आम लोग बेखौफ होकर रोड क्राॅस कर सकेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button