छत्तीसगढ़

बिस्कुट खरीदने गई बच्ची को आठ कुत्तों ने आधे घंटे तक नोचा, सड़क पर घसीटा….मौत से सहमे लोग

(शशि कोन्हेर) : एक पांच साल की बच्ची बिस्कुट खरीदने के लिए घर से निकली। बीच रास्ते में ही बच्ची पर आठ कुत्तों ने हमला कर दिया। कुत्तों का झुंड़ बच्ची को आधे घंटे तक नोचता रहा। बच्ची को कुत्ते तब तक काटते रहे जब तक उसकी मौत नहीं हो गई। यह छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले की घटना है। मिली जानकारी के मुताबिक, बच्ची के माता-पिता ईंट भट्ठे में मजदूरी करते हैं।

Advertisement

अजय माझी की 5 साल की बेटी शुक्रवार सुबह घर से बिस्कुट खरीदने निकली। रास्ते में करीब आठ कुत्तों ने बच्ची पर हमला कर दिया। कुत्ते आधे घंटे तक बच्ची को काटते रहे। कुत्तों ने बच्ची पर हमला एक खेत के पास किया। घर से दूर होने के कारण बच्ची की चीख-पुकार कोई सुन नहीं पाया। वहां से गुजर रहे कुछ लोगों ने जब देखा कि बच्ची पर कुत्तों ने हमला कर दिया है तब वो लाठी-डंडा लेकर कुत्तों को भगाए। आनन-फानन में बच्ची को हॉस्पिटल ले जाया गया। वहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया। इस घटना के बाद इलाके के लोग सहमे हुए हैं।

Advertisement

सिटी कोतवाली प्रभारी अश्वनी सिंह ने बताया कि बच्ची के माता-पिता मजदूरी करते हैं। सुबह जब बच्ची को भूख लगी तो वह बिस्कुट खरीदने दुकान की ओर गई। बीच रास्ते में ही उसपर कुत्तों ने हमला कर दिया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद डेड बॉडी को परिजनों को सौंप दिया है। कुत्तों को भगाने वाले लोगों ने बताया कि उन्होंने दूर से कुत्तों को बच्ची पर हमला करते देखा। बच्ची जब भी उठने की कोशिश करती, कुत्ते उस पर हमला कर उसे नीचे गिरा देते। यह देख उन्होंने डंडा लेकर कुत्तों को दौड़ाया। तब तक कुत्तों ने बच्ची को पूरी तरह से काट लिया था। वहां मौजूद लोगों ने बताया कि कुत्तों ने बच्ची को सड़क पर भी घसीटा।

Advertisement

बैकुंठपुर जिला अस्पताल के सीएमएचओ डॉक्टर अभिषेक गढ़ेवाल ने बताया कि बालिका को करीब 12.30 बजे जिला अस्पताल लाया गया था, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। उसके शरीर पर कई जगह कुत्तों के काटे जाने के निशान थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button