छत्तीसगढ़

कांग्रेस का दावा…मोहन मरकाम ने प्रेस वार्ता में पीड़िता का नाम उजागर नहीं किया उनके खिलाफ भाजपा ने झूठी शिकायत की,राष्ट्रीय बाल आयोग की नोटिस दुर्भाग्यपूर्ण



(शशि कोन्हेर) : रायपुर :  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के द्वारा तथाकथित रूप से ब्रम्हानंद नेताम मामले में पीड़िता का नाम उजागर करने में जांच के लिये राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग द्वारा कांकेर पुलिस अधीक्षक को भेजी गयी नोटिस बेहद ही दुर्भाग्यजनक है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि राष्ट्रीय बाल आयोग को पॉक्सो एक्ट के आरोपी ब्रह्मानंद नेताम पर संज्ञान लेना चाहिए।

Advertisement

जिसे भाजपा ने उपचुनाव में प्रत्याशी बनाया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने प्रेस वार्ता में पीड़िता का नाम नहीं लिया है बल्कि प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने सभी पत्रकार साथियों से पीड़िता की पहचान छुपाने की गुजारिश भी किए हैं।

Advertisement

भाजपा ने मोहन मरकाम के खिलाफ झूठी शिकायत कर रेप गैंगरेप पॉक्सो एक्ट और देह व्यापार में धकेलने के आरोपी ब्रह्मानंद नेताम के मामले में भानूप्रतापपुर की जनता का ध्यान भटकाने का षड्यंत्र किया है।

Advertisement

 प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने आरोपी ब्रह्मानंद नेताम के मामले को सार्वजनिक कर पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए आवाज उठाई है। क्योंकि 2019 में जब भाजपा की सरकार थी रघुवर दास मुख्यमंत्री थे तो पीड़िता की आवाज को दबाया गया कुचला गया उसके साथ अन्याय किया गया और आरोपी को बचाया गया है।

 प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि एक भाजपा नेता पर 15 साल की मासूम के साथ सामूहिक अनाचार का आरोप है उसके ऊपर मासूम को जबरिया देह व्यापार में धकेलने का अपराध दर्ज है। पास्कों एक्ट में मुकदमा दर्ज है। वह खुलेआम घूम रहा है। भाजपा उसे अपना प्रत्याशी बनाई है उनके ऊपर बाल संरक्षण संरक्षण आयोग को नोटिस देना चाहिये। इस पर आयोग ने अभी तक कोई कार्यवाही नही किया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button