देश

पति की हत्या के बाद महिला ने खुद की थी घर की पुताई, मकान मालिक ने कहा- नहीं हुआ जरा भी शक

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : त्रिलोकपुरी में 22 गज के छोटे से दो मंजिला मकान में एक महिला ने बेटे के साथ मिलकर पति की हत्या कर उसके शरीर के छोटे-छाेटे टुकड़े कर दिए। जिस घर में वारदात हुई उसमें बुजुर्ग मकान मालकिन समेत दो किरायेदार और रहते हैं। इतने छोटे से घर में बेरहमी से एक शख्स की हत्या कर टुकड़े कर दिए जाते हैं, लेकिन किसी को कानों-कान भनक तक नहीं हुई। रात भर शव से खून बहता रहा, लेकिन पड़ोसियों को बदबू तक नहीं आई।

Advertisement

बेटे के साथ मिल कर की पुताई
पूनम अपने परिवार के साथ पहली मंजिल पर किराये पर रहती थी। मई में पति की हत्या के बाद उसने अपने बेटे के साथ मिलकर खुद ही कमरे व बाहर पुताई की थी। हत्या के वक्त दीवारों पर जो खून के धब्बे लग गए थे, ताकि उन्हें मिटाया जा सके। मकान मालकिन लक्ष्मी देवी ने बताया कि जून के शुरुआत में पूनम ने उनसे कहा कि वह अपने घर में पुताई करवाना चाहती है, उन्होंने उसकी अनुमति दे दी थी। उन्होंने कहा कि उन्हें जरा भी भनक नहीं थी कि उनके घर के अंदर किसी की हत्या हुई है, क्योंकि किसी तरह की शोर की आवाज ही नहीं आई। न ही शव की न ही खून की कोई बदबू।

Advertisement

पूनम ने मकान मालकिन से कहा पति लंबे के समय के लिए गांव गए
मकान मालकिन लक्ष्मी देवी ने बताया कि अंजन दास उन्हें दिन में एक से दो बार दिख जाते थे, अचानक से वह दिखना बंद हो गए। उन्होंने कुछ महीने पहले उसकी पत्नी से उसके बारे पूछा तो उसने कहा अंजन अपने गांव गए हुए हैं। वह लंबे समय तक अब गांव में ही रहेंगे। लक्ष्मी देवी को शक तो हुआ, क्योंकि इससे पहले कभी अंजन इतने समय के लिए कभी अपने गांव नहीं गए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button