कांग्रेस विधायक पांडे पर राशन बाटने के लिए ‘धारा 144’ का जुर्म दर्ज

153

बिलासपुर। अपने शासकीय निवास में धारा 144 का उल्लंघन करने के आरोप में सिविल लाइन पुलिस ने नगर विधायक शैलेष पांडे के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। आरोप है कि विधायक अपने घर में राशन किराना का सामान लेने लोगों की भीड़ लगी थी। इसकी सूचना पर जागरूक पुलिस की टीम जांच करने मौके पर पहुंची और भीड़ को हटाते हुए कांग्रेस के नगर विधायक शैलेष पांडे पर अपराध दर्ज कर लिया। मामला दर्ज होने पर विधायक समर्थक सिविल लाइन थाने पहुंच गए और महामारी के दौरान कांग्रेस की गुटीय राजनीति का थाने में मजमा लगा रहा। कोरोना की महामारी पर शहर में कांग्रेस की गुटबाजी भारी रही और सरेआम इसका नजारा वेयर हाउस रोड पर विधायक पांडे के बंगले में रविवार की शाम को देखने मिला। लॉक डाउन होते ही जरूरतमंदों को खाने के लाले पड़ गए हैं। पैदल पलायन को लेकर केन्द्र और राज्य की सरकारो को आलोचनाए सहनी पड़ रही है। अचानक लॉकडाउन करके और आधी रात से रेल, बस, हवाई सेवा रोक दी गई जिसका नतीजा अब मजदूरों, रोजकमाने खाने वालों पर भारी पड़ रहा है।


ऐसे में शहर की सामाजिक संस्थाएं व स्वयं पुलिस प्रशासन के अधिकारी और जनप्रतिनिधि हर संभव मदद करते हुए उनके लिए भोजन, राशन पानी की व्यवस्था कर रहे हैं। उनके खिलाफ अब तक न तो कोई आरोप-प्रत्यारोप लगा और न हीकोई एफआईआर की गई। लेकिन कांग्रेस के बिलासपुर विधायक शैलेष पांडे की सक्रियता कांग्रेस के संगठन को शायद एक बार फिर नहीं पच पाई और इशारे ही इशारे में पांडे के ऊपर नकेल कस दी गई। शहर के लोगों में चर्चा है कि यह सब कांग्रेस की गुटीय राजनीति का नतीजा है, जो अपनी ही सरकार में विधायक, खुद अपराधी बनकर खड़ा कराया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here