आसमान में खराब हुआ इंडिगो, यात्रियों की सांसे अटकी, किया आपात लैंडिंग

76

अहमदाबाद । निजी क्षेत्र की हवाईसेवा इंडिगों की अहमदाबाद से कोलकाता जा रही एयरबस 320 नियो विमान के प्रैट एंड विटनी इंजनों में एक में गडबड़ी हो जाने के बाद उसे लौटना पड़ा। । अहमदाबाद में फ्लाइट के बीच रास्ते में ही लौटने पर अधिकारियों ने बताया, ‘अहमदाबाद-कोलकाता 6ई125 उड़ान के इंजनों में से एक में बीच आसमान में कंपन होने लगा। इसलिए पायलट विमान वापस अहमदाबाद ले गया।’ इंडिगो के लिए राहत की बात है कि नागर विमानन महानिदेशालय ने 13 जनवरी को एयर 320 नियो विमान के सभी 135 असंशोधित पी डब्ल्यू इंजनों को बदलने की समय सीमा 31 जनवरी से बढ़ार 31 मई कर दी थी। पिछले साल अक्टूबर में एक ही सप्ताह के अंदर एयर बस ए 320ए नियो विमानों के उड़ान भरने वाले स्थान पर लौट जाने या इंजन में गड़बड़ी की चार घटनाएं सामने आई थी। उसके बाद डीजीसीए ने कहा था कि बेहद जरूरी कदम उठाने की जरूरत है और उसने एक नवंबर को इंडिगो से 31 जनवरी तक 97 ए 320 नियो विमानों के पीडब्ल्यू इंजनों को हटाने को कहा था।
इंडिगो ने इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा, ‘शुक्रवार सुबह अहमदाबाद से कोलकाता जा रहे विमान को अहमदाबाद लौटना पड़ा। उड़ान के दौरान पायलट ने तत्काल सावधानी संदेश भेजा और मानक संचालन प्रक्रिया का पालन किया।’ इससे पहले 24 जनवरी को भी मुंबई से हैदराबाद जा रहा इंडिगो का विमान जब 23 हजार फीट की ऊंचाई पर था तो इसके एक इंजन में तेज आवाज के साथ कॉमन हाई वाइब्रेशन शुरू हो गया । इसके बाद एक इंजन ही सहायता से ही पायलट ने विमान को मुंबई में सुरक्षित लैंड कराया। पिछले दो साल में इंडिगो नियो के पीडब्ल्यू इंजन में खराबी का यह 22वां मामला था। मामले की जांच करने वाले एक शख्स ने बताया, ‘ग्राउंड निरीक्षण के दौरान इंजन नंबर 1 का लो प्रेशर टरबाइन नंबर 3 खराब पाया गया, यह 4006 घंटे तक उड़ान भर चुका था। विमान को दूसरे मॉडिफाइड इंजन के जरिए सुरक्षित उतारा गया, जिसने 1198 घंटे तक उड़ान भरी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here